पिथौरागढ़, जेएनएन : गणाईगंगोली तहसील के चौना गांव से पोखरी गई बरात में दूल्हे की कार के चालक का शव खाई में मिला है। कार चालक के नहीं मिलने पर दूल्हा व दुल्हन को दूसरे वाहन से लौटना पड़ा। शुक्रवार को चौना गांव से बरात पोखरी गई थी। बरात में दूल्हे की कार ग्वाल गांव निवासी पूर्व सैनिक शमशेर सिंह चला रहे थे। बरात के पोखरी गांव पहुंचने के बाद दिन में वैवाहिक कार्यक्रम हुए।

दूसरे वाहन से गए दूल्‍हा-दुल्‍हन

शाम को वैवाहिक कार्यक्रम पूरा होने के बाद बरात लौटने लगी तो दूल्हे के कार का चालक गायब था। बरातियों ने कार चालक की काफी देर तक ढूंढ-खोज की, परंतु उसका पता नहीं चला। दूल्हे की कार के चालक के नहीं मिलने पर दूल्हा-दुल्हन के लिए दूसरे वाहन की व्यवस्था की गई। देर सायं बरात अपने गांव लौट गई। चालक के लापता होने की सूचना राजस्व पुलिस को दी गई।

दूसरे दिन मिला चालक का शव

शनिवार सुबह तहसीलदार रमेश गिरि गोस्वामी, उप राजस्व निरीक्षक डेविड मर्ताेलिया, विक्रांत पवार, मदन मोहन जोशी, अनुसेवक पुष्कर सिंह मेहरा की टीम मौके पर पहुंची और शमशेर सिंह की तलाश में जुटी। इस दौरान राजस्व दल ने पोखरी, घोड़ासिल पैदल मार्ग पर खोजबीन प्रारंभ की तो गहरी खाई में शमेशर सिंह नजर आया। राजस्व कर्मी ग्रामीणों के सहयोग से खाई में उतरे तो वहां पर चालक शमशेर मृत हालत में मिला।

सिरे पर चोट के निशान मिले

ग्रामीणों के सहयोग से शमशेर का शव खाई से बाहर निकाला गया। मृतक के शव का पंचनामा भर कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पटवारी डेविड मर्तोलिया ने बताया कि मृतक के सिर पर घाव के निशान है। उन्होंने संदिग्ध मामला बताया। पोस्‍टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद जांच प्रारंभ होगी । परिजनों ने शमशेर को किसी के द्वारा खाई में धकेलने की शंका जताई है।

यह भी पढ़ें : एक किलो चरस के साथ पकड़े गए व्यक्ति को दस साल की कैद, विशेष सत्र न्‍यायालय का फैसला

यह भी पढ़ें : सीसीटीवी में कैद हुआ घर के आगे खड़ी बाइक व स्कूटी में आग लगाता युवक

Posted By: Skand Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस