अल्मोड़ा, जागरण संवाददाता : अल्‍मोड़ा जिले की नवनियुक्त डीएम वंदना सिंह ने अधिकारी कर्मचारियों को समय प्रबंधन का पाठ पढ़ाया। साथ ही आमजन की छोटी समस्याओं को प्राथमिकता से लेने व त्वरित निदान के निर्देश दिए। स्पष्ट किया कि फरियादी काम कराने के लिए बेवजह न भटके, इसका ध्यान रखा जाय। 2013 बैच की आइएएस अधिकारी वंदना इससे पूर्व पिथौरागढ़ में मुख्य विकास अधिकारी व डीएम रुद्रप्रयाग रहीं। शासन में अपर सचिव व आयुक्त ग्राम्य विकास तथा निबंधक सहकारिता जैसे अहम पदों पर भी जिम्मेदारी निभा चुकी हैं।

नवागत डीएम वंदना सिंह को बुधवार को कलक्ट्रेट परिसर में गार्ड ऑॅफ ऑनर दिया गया। इसके बाद कोषागार पंहुच उन्होंने विधिवत कार्यभार ग्रहण किया। वहां बारीकी से जायजा ले डबल व सिंगल लॉक, सीसीएल, डीसीएल आदि का निरीक्षण किया। साथ ही कलक्ट्रेट के विभिन्न पटलों का भी मुआयना किया। संबंधित पटल सहायकों से जरूरी जानकारी ली। 

बाद में डीएम वंदना ने अधिकारियों व कर्मचारियों को दिशा निर्देश दिए। साफ कहा कि फाइलें लंबित न रहें, इसका खास ध्यान रखा जाय। दैनिक कार्यों के साथ आमजन की छोटी से छोटी समस्या को गंभीरता से निस्तारित किया जाय। ताकि लोगों को बेवजह इधर उधर न भटकना पड़े। साथ ही फाइलों का समयबद्ध निस्तारण व गुणवत्तापूर्ण की भी हिदायत दी। इस दौरान सीडीओ नवनीत पांडे, एडीएम बीएल फिरमाल, एसडीएम सीमा विश्वकर्मा, मुख्य प्रशासनिक अधिकारी मनोहर लाल, प्रशासनिक अधिकारी भीम सिंह मेर, आपदा प्रबंधन अधिकारी राकेश जोशी, वैयक्तिक सहायक हरेश उपाध्याय आदि मौजूद रहे। 

 

Edited By: Skand Shukla