हल्द्वानी, जेएनएन : गौलापार के खेड़ा गांव में कुत्ते के भोंकने पर भड़के पड़ोसी ने घर से बंदूक लाकर फौजी के घर पर फायरिंग कर दी। इससे घर पर मौजूद फौजी की पत्नी व बच्चे दहशत में आ गए। पुलिस ने आरोपित पड़ोसी को रात में ही गिरफ्तार कर बंदूक व दो खोखे बरामद कर लिए हैं। आरोपित का शांतिभंग में चालान किया गया है। फौजी की पत्नी की शिकायत पर आरोपित के विरुद्ध आर्म्‍स एक्ट में मुकदमा दर्ज किया गया है।

मूल रूप से बिंदुखत्ता के घोड़ानाला में रहने वाले बलवंत सिंह कार्की सेना में हवलदार हैं। वर्तमान में बलवंत झांसी में तैनात हैं। पांच साल से उनका परिवार गौलापार के खेड़ा गांव में रह रहा है। बीते शुक्रवार की रात घर पर बलवंत की पत्नी आशा कार्की, बेटा शुभम व प्रियांशु थे। आशा के मुताबिक रात करीब साढ़े आठ बजे पड़ोसी पंकज उप्रेती कार से घर के बाहर आया। एक-दो बार कार आगे पीछे होने पर कुत्ते ने भाेंका तो वह बाहर आईं। उस समय पंकज कार से वापस लौट गया। करीब आधे घंटे बाद पंकज पैदल घर के पास तक आया। फिर कुत्ता भोंका तो उन्होंने चैनल खोला। कुत्ते के बाहर जाते ही पंकज ने दो फायर झोंक दिए। इससे घबराकर वह घर के भीतर भागी। जबकि पांव में छर्रे लगने से कुत्ता जख्मी हो गया।

काठगोदाम थाना पुलिस से शिकायत करने पर दो पुलिसकर्मियों ने मौके पर पहुंचे। आशा ने फोन कर दौलतपुर गांव में रहने वाले अपने भाई पंकज बोरा को बुलाया और बच्चों संग मायके चली गई। वहीं पुलिस ने रात में ही आरोपित पंकज को हिरासत में लेकर बंदूक बरामद की। सुबह 312 बोर के दो खाली खोखे भी आशा के घर के पास मिले। दोपहर में पंकज को शांति भंग में निरुद्ध कर न्यायालय में पेश किया गया। थानाध्यक्ष नंदन रावत ने बताया कि आशा की ओर से शिकायती पत्र मिलने पर आरोपित के विरुद्ध 27/30 आर्म्‍स एक्ट में मुकदमा दर्ज किया गया है।

सांसद तक पहुंचा फायरिंग का मामला

फौजी बलवंत के घर फायरिंग की सूचना पर उनके रिश्तेदार ग्राम प्रधान त्रिलोक नौला भी पहुंचे। उन्होंने सांसद अजय भट्ट को घटना से अवगत कराया। ग्राम प्रधान ने बताया कि सांसद ने तत्काल जिले के पुलिस अफसरों से फोन पर वार्ता कर कार्रवाई के लिए निर्देशित किया।

बंदूक व रिवॉल्वर का लाइसेंस होगा निरस्त

थानाध्यक्ष नंदन सिंह रावत ने बताया कि फायरिंग की सूचना पर रात में ही पुलिस भेजकर आरोपित पंकज को पकड़ लिया गया था। उसके पास लाइसेंसी बंदूक के अलावा एक रिवॉल्वर भी है। दोनों शस्त्रों के लाइसेंस निरस्तीकरण की रिपोर्ट बनाकर अफसरों को भेज दी गई है।

बेटी पर झपटने से गुस्से में था पंकज

थानाध्यक्ष के मुताबिक पूछताछ में पंकज ने बताया कि कुछ दिन पहले कुत्ता उसकी बेटी पर झपट गया था। इससे पहले भी वह कई बार आते-जाते समय परिवार के लोगों पर झपटने की कोशिश कर चुका था। बेटी पर झपटने के बाद से वह कुत्ते को डराने का मन बना चुका था। डराने के मकसद से उसने फौजी के घर के पास आकर हवाई फायरिंग की।

यह भी पढ़ें : समाज कल्‍याण छात्रवृत्ति घोटाला मामले में हरियाणा के शैक्षिक संस्थानों से होगी पूछताछ

यह भी पढ़ें : हल्द्वानी की मशहूर अब्दुल्ला बिल्डिंग में मुरादाबाद पुलिस की दबिश, महिला को साथ ले गई 

Posted By: Skand Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस