हल्द्वानी, जागरण संवाददाता : ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल लाइन के लिए करीब 4200 करोड़ रुपये का पैकेज खर्च किया जाना है। इसी तरह टनकपुर-बागेश्वर रेल लाइन निर्माण के लिए तैयारी की जा रही है। यह बातें भारतीय रेलवे बोर्ड के वित्तीय आयुक्त नरेश सलेचा ने रविवार को प्रेस वार्ता के दौरान कहीं।

सलेचा नैनीताल, काठगोदाम के दौरे पर थे। उन्होंने काठगोदाम में रेलवे से जुड़े विभिन्न कार्यों का निरीक्षण किया। बीते शनिवार की सुबह रानीखेत एक्सप्रेस के विशेष कोच से वह काठगोदाम स्टेशन पहुंचे थे। स्टेशन स्थित डिपो के निरीक्षण के बाद वह नैनीताल चले गए। रविवार को उन्होंने फिर से काठगोदाम स्टेशन के प्लेटफार्म व अन्य गतिविधियों का निरीक्षण किया।

इससे पहले उन्होंने स्टेशन परिसर में शाम छह बजे प्रेस वार्ता की। जिसमें भारतीय रेल से जुड़े विभिन्न मुद्दों पर बात की। रेलवे के निजीकरण के मुद्दे पर वित्तीय आयुक्त ने स्थिति स्पष्ट की। आयुक्त ने बताया कि रेलवे के संसाधन बेहतर करने के लिए प्राइवेट पार्टी आ रही है। जिसमें स्टेशन री डेवलपमेंट के लिए प्राइवेट पार्टी को आफर दिया जा रहा है। जिससे रेलवे की आय बेहतर हो सकेगी।

तेजस सहित अन्य नई संचालित रेलगाडिय़ों को चलाया जा रहा है। मल्टी स्टोरी कालोनी को शीघ्र पूरा करने, विद्युतीकरण आदि के बारे में भी बताया। इस मौके पर एडीआरएम विवेक गुप्ता, स्टेशन अधीक्षक चयन रॉय, मुख्य टिकट निरीक्षक हरीश भाकुनी, सीनियर सेक्शन इंजीनियर अरुण नपलच्याल, आरपीएफ निरीक्षक रणदीप सिंह आदि मौजूद थे।

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

Edited By: Skand Shukla