Move to Jagran APP

Nainital News: अब बिंदुखत्ता भी होगा बिजली से रोशन, 16 साल से लगी रोक हटी, लोगों को नहीं मिल रहे थे कनेक्शन

Electricity in Bindukhatta उत्तराखंड पावर कारपोरेशन लिमिटेड के प्रबंध निदेशक अनिल कुमार और निदेशक संचालन जगदीश प्रसाद ने विधायक डा. मोहन सिंह बिष्ट को पत्र देकर इस बात का प्रमाण दिया है कि अब बिंदुखत्ता में स्थायी मीटर लगाए जाने और विद्युतीकरण होने की राह आसान हो चुकी है।

By Jagran NewsEdited By: Rajesh VermaPublished: Fri, 25 Nov 2022 10:04 PM (IST)Updated: Fri, 25 Nov 2022 10:04 PM (IST)
क्षेत्र में न नए स्थायी विद्युत कनेक्शन दिए जा रहे थे न ही पोल लगाए जा रहे थे।

लालकुआं, संवाद सहयोगी : Electricity in Bindukhatta: बिंदुखत्ता में विद्युतीकरण को लेकर 16 वर्ष पूर्व लगाई गई रोक अब हट गई है। विद्युत विभाग के प्रबंध निदेशक ने बिंदुखत्ता क्षेत्र में विद्युतीकरण कार्य कराने का आदेश जारी कर दिया है, जिससे क्षेत्र में खुशी की लहर है।

loksabha election banner

न मिला रहा था स्थायी कनेक्शन, न लगा रहा था पोल

बिंदुखत्ता क्षेत्र में वर्ष 2004 से विद्युतीकरण पर रोक लगी थी, जिस कारण ऊर्जा निगम की ओर से क्षेत्र में न तो नए स्थायी विद्युत कनेक्शन दिए जा रहे थे न ही विद्युत पोल ही लगाए जा रहे थे। इस कारण क्षेत्र की 70 हजार की आबादी भारी दिक्कतों के बीच जीवन यापन कर रही थी।

ऊर्जा निगम के एमडी ने विधायक को भेजा पत्र

इधर, विधायक बिष्ट ने बिंदुखत्ता क्षेत्र में विद्युतीकरण पर लगी रोक हटाने के लिए छह माह से प्रयास कर रहे थे। आखिरकार उनका प्रयास सफल हुआ। बुधवार को उत्तराखंड पावर कारपोरेशन लिमिटेड के प्रबंध निदेशक अनिल कुमार, और निदेशक संचालन जगदीश प्रसाद ने विधायक डा. मोहन सिंह बिष्ट को पत्र देकर इस बात का प्रमाण दिया है कि अब बिंदुखत्ता में स्थायी मीटर लगाए जाने और विद्युतीकरण होने की राह आसान हो चुकी है। उन्होंने जिन क्षेत्रों में विद्युतीकरण का कार्य छूटा है उसके लिए प्रस्ताव बनाकर भेजने को भी कहा है।

रोक हटने पर बिंदुखत्ता में जश्न

16 वर्षों के बाद बिंदुखत्ता में विद्युतीकरण में लगी रोक हटने पर शुक्रवार को क्षेत्र के लोगों ने विधायक डा. मोहन बिष्ट का आभार जताया। पूर्व सैनिक संगठन व भाजपा कार्यकर्ताओं ने कार रोड चौराहे पर मिष्ठान वितरण किया। बिंदुखत्ता में विद्युतीकरण में वर्ष 2004 में रोक लग गई थी। इसके बाद से यहां पर स्थायी मीटर व विद्युत पोल लगना बंद हो गया था। इधर, विधायक डा. मोहन बिष्ट के प्रयास पर विद्युतीकरण पर लगी रोक हटा दी गई।

हम लोगों ने सुप्रीम कोर्ट के काफी चक्कर लगाए। जिसके बाद इस जटिल समस्या का समाधान हो गया है। पावर कारपोरेशन उत्तराखंड के प्रबंध निदेशक का उन्हें पत्र भी प्राप्त हो गया है। उन्होंने कहा कि अब बिंदुखत्ता क्षेत्र में विद्युतीकरण का कार्य शुरू हो जाएगा।

- डा. मोहन सिंह बिष्ट, विधायक, लालकुआं


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.