हल्द्वानी, जेएनएन : आखिरकार वही हुआ जिसका ग्रामीणों को डर था। आदमखोर तेंदुए को पकडऩे के लिए स्थानीय लोग और प्रतिनिधि लगातार मांग उठा रहे थे, मगर जिम्मेदार अफसर इसे लापरवाही से लेते रहे। नतीजा यह हुआ कि रानीबाग क्षेत्र में शनिवार सुबह घास काटने के लिए घर से निकली महिला को तेंदुआ उठा ले गया। साठ वर्षीय महिला का शव बरामद कर दिया गया है। इलाके में पिछले बीस दिनों से तेंदुआ मंडरा रहा था। विभागीय अधिकारी अनजान बने रहे और आखिरकार महिला को जान से हाथ धोना पड़ा।

रानीबाग की रहने वाली 60 वर्षीय पुष्पा सांगुड़ी अन्‍य म‍हिलाओं के साथ घास काटने के लिए गौला बैराज के पास जंगल में घास काटने गई थी। सुबह करीब साढ़े आठ बजे के आसपास तेंदुए ने पुष्पा सांगुडी पर हमला कर दिया। अन्‍य महिलाएं कुछ समझ पातीं, तब तक तेंदुआ उसे घसीटते हुए काफी दूर तक ले गया। साथ की अन्य महिलाओं के शोर मचाया तो आसपास के लोग पहुंचने शुरू हुए। इलाके में पिछले तीन सप्ताह से आदमखोर तेंदुए का आंतक बना हुआ है। स्थानीय लोग वन विभाग ने कई बार तेंदुए को पकडऩे की मांग कर चुके हैं। ग्रामीणों की सूचना पर पहुंची वन विभाग की टीम ने ग्रामीणों के साथ महिला की तलाश शुरू कर दी है। स्थानीय लोगों में वन विभाग के खिलाफ भारी आक्रोश है।

तेंदुए का शिकार बनी महिला का शव बरामद

काठगोदाम थाना क्षेत्र के गाैला बैराज के जंगल में गुलदार की शिकार महिला का क्षतविक्षत शव बरामद कर लिया है। वन विभाग, पुलिस और स्‍थानीय लोगों ने एक घंटे की मशक्‍कत महिला का शव बरामद किया। वन विभाग और प्रशासन अग्रिम कार्रवाई में जुटा है।

ताई को ढूंढने में भतीजा चोटिल

तेंदुए के हमले का शिकार ताई को ढूंढने निकला भतीजा विक्‍की पहाड़ी से गिरकर चोटिल हो गया। बारिश के कारण मिट्टी गीली है। जिस कारण विक्‍की पहाड़ी से फिसलकर गहरी खाई में गिर गए। उनके सिर, मुंह, गाल में चोट लगी है। 108 एंबुलेंस की मदद से उन्‍हें हल्‍द्वानी अस्‍पताल भेजा गया है।

यह भी पढ़ें

शहर में घुस आए तेंदुए का नहीं चला पता, लोगों में वन विभाग के खिलाफ बढ़ा रोष

Posted By: Skand Shukla

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस