हल्द्वानी, जेएनएन : पर्यावरण संरक्षण परिषद के उपाध्यक्ष की छापेमारी में बायोमेडिकल वेस्ट के निस्तारण में निजी अस्पतालों और कूड़ा उठाने वाली कंपनी दोनों के लापरवाही बरतने का मामला उजागार हुआ है। नाराज उपाध्यक्ष ने अस्पतालों को नोटिस और कंपनी के वाहन को सीज करने के निर्देश दिए है। इस कार्रवाई से शहर के अन्य निजी अस्पतालों में भी खलबली मच गई है।

पर्यावरण संरक्षण परिषद के उपाध्यक्ष प्रकाश हर्बोला ने शुक्रवार को पहले विवेकानंद अस्पताल का निरीक्षण किया। पता चला कि हॉस्पिटल के मेडिकल वेस्ट का नियमानुसार निस्तारण नहीं हो रहा है। इसी दौरान अस्पतालों से कचरा उठाने वाली संस्था ग्लोबल प्राइवेट लिमिटेड का वाहन भी वहां पहुंच गया। गाड़ी में शहर के कई निजी अस्पतालों का कूड़ा रखा था। इनमें रखे बैग सील पैक नहीं थे और उनके पर संबंधित हॉस्पिटल का नाम तक नहीं था, जबकि नियमानुसार बैग सील्ड होने के साथ ही उस पर अस्पताल का नाम लिखा होना जरूरी है। वाहन में जीपीएस सिस्टम भी नहीं था। इसके बाद हर्बोला के नेतृत्व में टीम बिग बाजार पहुंची। यहां प्लास्टिक कचरे के निस्तातरण का कोई उपाय नहीं था। नाराजगी जताते हुए हर्बोला ने कहा कि 15 दिन में व्यवस्था नहीं बनाई तो कार्रवाई की जाएगी। 

संस्था व समाजसेवियों का सहयोग लें

काठगोदाम सर्किट हाउस में बैठक के दौरान पर्यावरण संरक्षण परिषद के उपाध्यक्ष प्रकाश हर्बोला ने कहा कि विकराल होती जा रही कूड़े की समस्या से निपटने के लिए एनजीओ व क्षेत्र के समाजसेवियों की मदद भी ली जाए। बैठक में उन्होंने स्वच्छ भारत मिशन, प्रधानमंत्री आवास योजना, दीनदयाल अंत्योदय योजना-राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन एवं राजीव आवास योजना की प्रगति भी जानी। हर्बोला ने कहा कि सभी निकाय अपने क्षेत्र में सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट के तहत कूड़ा निस्तारण करें। 600 परिवारों के लिए डोर-टू-डोर कूड़ा एकत्रित करने के लिए एक वाहन निर्धारित किया गया है। कहा कि मिशन के तौर पर गंदगी से लडऩा होगा। इसके अलावा स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को मेडिकल वेस्ट से संबंधित सभी रिकॉर्ड रखने के निर्देश दिए। वहीं पीएम आवास योजना व राजीव आवास योजना में लक्ष्य के मुताबिक काम नहंी होने पर भी उन्होंने नाराजगी जताई। बैठक में नगर आयुक्त सीएस मर्तोलिया, सिटी मजिस्ट्रेट प्रत्यूष सिंह, आरटीओ राजीव मेहरा, उपनिदेशक शहरी विकास नीरज जोशी समेत तमाम अफसर मौजूद थे।

Posted By: Skand Shukla

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप