नैनीताल, [जेएनएन]: हाईकोर्ट ने उत्तराखंड की जेलों में बंद कैदियों की स्थिति को लेकर दायर जनहित याचिका पर सुनवाई की। सुनवार्इ के बाद कोर्ट ने उच्चस्तरीय कमेटी से सरकार और न्याय मित्र की रिपोर्ट की जांच कर शुक्रवार तक रिपोर्ट कोर्ट में पेश करने के आदेश दिए हैं। 

इन दि मैटर ऑफ प्रिजन रिफॉर्म फॉर दि डिस्ट्रिक जेल नैनीताल-ऊधमसिंहनगर ने जनहित याचिका दायर कर कहा कि दोनों जिलों के अलावा राज्य की अन्य जेलों में कैदियों के हालात बेहद खराब हैं। कैदियों के लिए स्वास्थ्य समेत अन्य बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध नहीं हैं। 

इसपर न्यायमित्र पूरण सिंह रावत ने नैनीताल जेल का दौरा किया और कैदियों की सुविधाओं को लेकर रिपोर्ट कोर्ट में पेश की। उल्लेखनीय है कि जेलों की स्थिति को लेकर बनी उच्चस्तरीय कमेटी के अध्यक्ष वरिष्ठ न्यायाधीश न्यायमूर्ति राजीव शर्मा हैं, जबकि सदस्यों में जिला जज नैनीताल, जिलाधिकारी, एसएसपी नैनीताल हैं। कमेटी जल्द नैनीताल और हल्द्वानी जेल का निरीक्षण करेगी। मामले की सुनवाई मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति केएम जोसफ व न्यायमूर्ति यूसी ध्यानी की खंडपीठ में हुई। 

यह भी पढ़ें: किच्छा के 541 अतिक्रमणकारियों से हार्इकोर्ट ने दो हफ्ते में मांगा जवाब

यह भी पढ़ें: हाई कोर्ट ने बर्खास्त प्राध्यापक को बहाल करने के दिए आदेश 

Posted By: Raksha Panthari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस