गूलरभोज (ऊधमसिंह नगर), जेएनएन : वनकर्मियों ने तस्कर समझ पांचवीं के छात्र दीपू सिंह सहित उसके भाई पर शुक्रवार रात फायरिंग कर दी। गोली दीपू की जांघ को चीरती हुई पार निकल गई। हमले से गुस्साए परिजनों और ग्रामीणों ने गुलरभोज चौकी पर पहुंच प्रदर्शन शुरू कर दिया। मामला बढ़ता देख देर रात एसओ गदरपुर और एएसपी ने चौकी पहुंचकर दो वनकर्मियों व दो अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। इसके बाद लोग शांत हुए। इस बीच दीपू को गंभीर हालत में एसटीएच हल्द्वानी में भर्ती कराया गया, जहां उसकी हालत नाजुक बनी हुई है।

इस तरह से हुई घटना

हरिपुरा जलाशय के कटपुलिया गांव निवासी गुरमीत सिंह का बड़ा बेटा हरजीत शुक्रवार को एक विवाह समारोह में गया था। देर रात वह घर लौट रहा था। कटघाट पहुंचा तो पार जाने के लिए नाव दूसरे छोर पर थी। फोन कर उसने कक्षा पांच में पढऩे वाले छोटे भाई दीपू सिंह को बुला लिया। दीपू उसे लेकर जैसे ही नाव से उतरा, अचानक दूसरे छोर से वनकर्मियों ने फायरिंग शुरू कर दी। एक गोली दीपू की जांघ के पार निकल गई। यह देख हरजीत ने शोर मचाना शुरू कर दिया। कुछ देर में घटनास्थल पर ग्रामीणों का हुजूम उमड़ पड़ा। गुस्साए ग्रामीण और परिजन दीपू को लेकर देर रात पुलिस चौकी पहुंच गए। प्रदर्शन के साथ विरोध बढ़ता जा रहा था, सूचना पर पहुंचे एएसपी डॉ.जगदीश चंद्रा व एसओ गदरपुर ललित बिष्ट ने किसी तरह ग्रामीणों को शांत कराया। दीपू के पिता की तहरीर पर आरोपित वनकर्मी मोहनदत्त शर्मा, राजू डोगरा व दो अज्ञात के खिलाफ धारा 307 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।

वनकर्मियों ने भी फायरिंग का लगाया आरोप

मामले में वनकर्मी इमरान खां ने भी अज्ञात लोगों के खिलाफ फायरिंग की तहरीर दी। उन्होंने बताया कि लकड़ी तस्करी में विफल रहने पर कुछ लोगों ने फायरिंग की थी, जिसके जवाब में उन्हें भी फायरिंग करनी पड़ी।  उप प्रभागीय वनाधिकारी यूसी तिवारी ने बताया कि कटपुलिया और ककराला गांव लकड़ी तस्करी के लिए कुख्यात है। यहां से रोजाना तस्करी के मामले सामने आ रहे हैं। शुक्रवार रात तस्करों और वनकर्मियों के बीच क्रॉस फायरिंग में छात्र को गोली लगने की जांच की जाएगी।

यह भी पढ़ें : ऊधसिंह नगर में बड़े बाइक चोर गिरोह का खुलासा, 19 चोरी की बाइकों के साथ तीन गिरफ्तार

Posted By: Skand Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस