जागरण संवाददाता, हल्द्वानी : रेलवे चाइल्ड लाइन के कार्यक्रम में बच्चों ने जहां जमकर मस्ती की वहीं अपनी शिकायतें और दर्द भी बयां किया। इस दौरान बच्चों ने रेलवे चाइल्ड लाइन के सदस्यों से विभिन्न मुद्दों पर खुलकर अपना मन रखा। चाइल्ड लाइन की ओर से उन्हें सहायता का आश्वासन भी दिया गया।

धरोहर रेलवे चाइल्डलाइन की ओर से रेलवे स्टेशन हल्द्वानी में ओपन हाउस कार्यक्रम का आयोजन किया गया। ओपन हाउस रेलवे चाइल्डलाइन के द्वारा प्रतिमाह की जाने वाली गतिविधि है। जिसमें बच्चों को अपनी बात बोलने को खुला मंच दिया जाता है। स्वतंत्रता दिवस की बधाई के साथ बच्चों को बाल अधिकार बाल यौन अपराध से सुरक्षा, बाल श्रम, बाल मजदूरी निषेध, बालभिक्षावृति आदि मुद्दों पर बच्चों की समझ बनाई गई। बच्चों को शिक्षा के प्रति जागरूक किया गया कि किस प्रकार बच्चे 1098 पर कॉल कर मदद ले सकते हैं।

बाल कल्याण समिति की सदस्य संगीता शेखर राव कार्यक्रम के मुख्य अतिथि रही उन्होंने बच्चों को बाल हिंसा से संबंधित विभिन्न नियमों के बारे में बताया जिसमें बाल श्रम, भिक्षावृत्ति आदि के लिए प्रेरित करने पर चाइल्ड लाइन से शिकायत करने को प्रोत्साहित किया। रेलवे चाइल्ड लाइन समन्वयक विनोद चंद्र टम्टा ने बताया कि बच्चों ने विभिन्न में समस्याओं पर अपनी शिकायत भी दर्ज कराई। जिसमें छह बच्चे स्कूल प्रवेश, तीन बच्चे चिकित्सीय मदद, दो बच्चों ने हिंसा की शिकायत की। बताया कि उनके पिता नशा करके उनकी माता के साथ मारपीट, गाली गलौच करते हैं। जिसके लिए वह मदद चाहते हैं।

इस तरह बच्चों ने अपनी अपनी बात सामने रखी। जिसमें रेलवे चाइल्ड लाइन बच्चो की मदद करेगी। बच्चों ने कला प्रतियोगिता, चमच्च दौड़, कविता आदि से मनोरंजन किया। बच्चों को सेनिटाइज कर मास्क, बिस्किट, चॉकलेट, फल आदि वितरण किया गया। कार्यक्रम में समन्वयक विनोद कुमार टम्टा, टीम सदस्य आशुतोष पांडेय, मुकेश बोरा, ललित नेगी, रोहित कुमार, कमला राणा, श्वेता वर्मा, निशा पांडेय, रविकर, स्टेशन मास्टर मनोहर लाल पंत मौजूद रहे।

Edited By: Skand Shukla