बागेश्वर, जेएनएन : मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने बागेश्वर में नाराज चल रहे विधायकों को लेकर बातों-बातों में बहुत कुछ कह दिया। उन्होंने कहा कि कैबिनेट विस्तार को लेकर विधायक नाराज हैं और आरोप लगा रहे हैं कि सरकार अच्छी नहीं चल रही है। यह सब मीडिया में ही चल रहा है। सरकार अच्छे तरीके से चल रही है। सभी जिलों में भाजपा के विधायक हैं जो कैबिनेट में जगह पाना चाहते हैं। जल्द ही इस पर विचार-विमर्श कर फैसला कर लिया जाएगा।

 

शनिवार को मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने पत्रकार वार्ता में कहा कि सभी जिलों में भाजपा विधायक हैं। जो कैबिनेट विस्तार में जगह पाना चाहते हैं। सरकार बेहतर तरीके से कार्य कर रही है। कहने वाले कहते रहें। उन्होंने कहा कि बागेश्वर जिले के 407 ग्राम पंचायत में से 397 ग्राम पंचायतों को सड़क से जोड़ दिया गया है। लगातार कार्य चल रहा है। विकास की पहली कड़ी सड़क ही है। प्रदेश में चिकित्सकों की कमी दूर की गई है। 2500 नए चिकित्सक भर्ती किए गए है। जिले को भी नए डाक्टर मिल गए है।

 

उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी अभी हमारे लिए चैलेंज बना हुआ है। फिर भी हमारी स्थिति अन्य राज्यों से अच्छी है। यहां बखूबी कोरोना महामारी पर नियंत्रण किया गया है। सभी अस्पतालों में आक्सीजन, वैंटिलेटर आदि की व्यवस्था की गई है। रोजगार की नई संभावनाओं को तलाश किया जा रहा है। किसी प्रकार की कमी नहीं होने दी जाएगी। मुख्यमंत्री रावत ने कहा कि कोरोना काल में कृषि व्यवस्था में किसी प्रकार की दिक्कत नहीं आई जो हमारी ताकत है। अन्य सूक्ष्य, लघु उद्योग जल्द ही अपने पुराने स्वरूप में कार्य करने लग जाएंगे।

 

हरक मामले में कोई विवाद नहीं

कैबिनेट मंत्री हरक ङ्क्षसह रावत के सवाल के जवाब में सीएम रावत ने कहा कि अभी 60-65 लोगों को दायित्व दिए गए है। दायित्व बंटवारे से पहले सभी से विचार-विमर्श के बाद निर्णय लिया गया है। कोई विभाग मंत्री तो कोई मुख्यमंत्री के पास रहता है। इसमें विवाद की कोई बात नहीं है।

 

कोविड अस्पताल के हालात की जानकारी नहीं

मुख्यमंत्री रावत को कोविड-19 अस्पताल को आक्सीजन की सेंट्रल सप्लाई यूनिट से नहीं जोड़े जाने की जानकारी से अंजान दिखे। सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि यह जानकारी नहीं है। अगर ऐसा हो रहा है तो उस पर तुरंत कार्रवाई की जाएगी।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021