गणेश पांडे, हल्द्वानी : उत्तराखण्ड चुनाव 2022 : दलबदल के बीच दो से तीन दिन के भीतर टिकटों की तस्वीर साफ होने की उम्मीद है। फिर नई कवायद नामांकन पत्र दाखिल करने को लेकर होगी। विधानसभा चुनाव के लिए राज्य में 21 से 28 जनवरी तक नामांकन होने हैं। 23 जनवरी को रविवार व 26 को गणतंत्र दिवस का अवकाश होने से नामांकन के लिए छह दिन मिलेंगे। राशि, दिन व शुभ-अशुभ देखकर कदम उठाने वाले प्रत्याशियों को इस बार तीन दिन ही श्रेष्ठ मुहूर्त मिल पाएंगे। टिकट तय हो चुके नेताओं में कइयों ने पंडितों से कुंडली खुलवानी शुरू कर दी है। हालांकि चुनाव में कौन अभिजीत साबित होगा और किस के राजनीतिक भविष्य पर भद्रा की छाया रहेगी, यह 10 मार्च को परिणाम आने के बाद पता चलेगा।

नामांकन की शुरुआत 21 जनवरी को शुक्रवार के दिन हो रही है। इस दिन संकष्ट चतुर्थी है। भगवान गणेशजी की पूजा का विशेष दिन। नामांकन के लिए दिनभर मुहूर्त रहेगा। दोपहर में अभिजीत मुहूर्त भी रहेगा। पर्व निर्णय सभा कुमाऊं के सचिव डा. नवीन चंद्र जोशी ने बताया कि 25 जनवरी को कालाष्टमी के दिन दोपहर बाद शुभ मुहूर्त रहेगा। 28 जनवरी को षटतिला एकादशी के दिन शुक्रवार ध्रुव योग पर अति सिद्ध मुहूर्त रहने से नामांकन का श्रेष्ठ दिन रहेगा। हालांकि इस दिन मेष, सिंह, धनु आदि राशि वाले प्रत्याशियों को नामांकन से बचना चाहिए। डा. जोशी ने बताया कि 22 जनवरी को सामान्य मुहूर्त है। 24 जनवरी को दोपहर से पहले भद्रा की छाया होने से मुहूर्त नहीं रहेगा। 27 जनवरी को दोपहर बाद भद्रा रहेगी।

किस दिन क्या रहेगा मुहूर्त

21 जनवरी

पूर्वाह्न 10:50 से 1:55 बजे तक

12:20 से 1:55 बजे तक अभिजीत मुहूर्त

दोपहर 1:55 से शाम 5 बजे तक

22 जनवरी

पूर्वाह्न 11:50 से 2:40 बजे तक

24 जनवरी

अपराह्न 2:50 से 5:40 बजे तक

25 जनवरी

दोपहर 12:20 से 2:50 बजे तक

27 जनवरी

सुबह 9:30 से 1:20 बजे तक

28 जनवरी

सुबह 9:40 से 11:40 बजे तक

दोपहर 12:20 से 1:55 बजे तक

अपराह्न 3:10 से 4:50 बजे तक

समर्थक अपने नेताओं का राजनीतिक भविष्य पूछ रहे

सचिव पर्व निर्णय सभा कुमाऊं डा. नवीन चंद्र जोशी ने बताया कि मुहूर्त की सटीक गणना व्यक्ति की कुंडली, ग्रहों की दशा आदि देखने के बाद होती है। राशि में ग्रहों की स्थिति ठीक नहीं होने पर कुछ उपाय से उनका प्रभाव कम किया जा सकता है। कई समर्थक अपने नेताओं का राजनीतिक भविष्य के बारे में पूछने लगे हैं।

Edited By: Skand Shukla