नैनीताल, [जेएनएन]: पवित्र कैलास मानसरोवर यात्रा मार्ग को लेकर असमंजस के बीच कुमाऊं मंडल विकास निगम ने आदि कैलास यात्रा की तैयारी भी शुरू कर दी है। ओम पर्वत यात्रा के तौर पर प्रसिद्ध आदि कैलास यात्रा में शामिल शिवभक्त पिथौरागढ़ से बूंदी तक वायु सेना के एमवाई हेलीकॉप्टर में भेजे जाने का प्रस्ताव है। निगम प्रबंधन कैलास मानसरोवर यात्रा मार्ग को लेकर विदेश मंत्रालय को भेजे गए प्रस्ताव को फाइनल टच देने की प्रतीक्षा कर रहा है। 

पिछले साल उच्च हिमालयी क्षेत्र में भूस्खलन की वजह से कैलास यात्रा मार्ग अब तक क्लीयर नहीं हो सका है। नेपाल के रास्ते भी यात्रा का प्रस्ताव है मगर यह प्रस्ताव भारत नेपाल के बीच शीर्ष स्तर के बीच का मामला है। निगम ने कैलास मानसरोवर यात्रा के यात्रियों को पिथौरागढ़ नैनी सैनी हवाई पट्टी से बूंदी तक वायु सेना के एमवाई हेलीकॉप्टर से भेजे जाने का कार्यक्रम तय किया है। उधर, बीआरओ द्वारा कहा गया है कि मई तक यात्रा मार्ग को दुरुस्त कर लिया जाएगा। मई में विदेश मंत्रालय की टीम के यात्रा मार्ग का निरीक्षण करने की योजना भी है। 

दस जून से आदि कैलास यात्रा होगी शुरू 

कुमाऊं मंडल विकास निगम ने आदि कैलास यात्रा का टेंटेटिव कार्यक्रम तैयार कर लिया है। निगम को इस यात्रा के लिए दो सौ से अधिक यात्री अब तक संपर्क कर चुके हैं। जागरण के पास उपलब्ध प्रस्ताव के अनुसार आदि कैलाश का पहला दल दस जून को दिल्ली से रवाना होकर 11 जून को काठगोदाम पहुंचेगा। दूसरा दल 14 को, तीसरा 18 को, चौथा 22 को, पांचवां 26 को, छठा  30 जून को, सातवां चार जुलाई, आठवां आठ को, नौवां 12 को, दसवां 16, 11 वां 20 को, 12 वां 24 को 13 वां 28 को, 14 वां पहली अगस्त, 15 वां पांच अगस्त, 16 वां नौ अगस्त, 17 वां 13 को, 18 वां 17, 19 वां 21 व 20 वां बैच 25 अगस्त को दिल्ली से रवाना होगा। निगम ने यात्रा कार्यक्रम इस तरह तैयार किया है कि कैलास मानसरोवर यात्रा व आदि कैलास यात्रा में डबलिंग ना हो। 

यहां बता दें कि कैलास मानसरोवर यात्रा भी जून से सितंबर तक प्रस्तावित है। निगम के साहसिक प्रबंधक गिरधर सिंह मनराल कहते हैं कि कैलास व आदि कैलास यात्रा को लेकर निगम स्तर से तैयारियों में कोई कमी नहीं है। 

केएमवीएम के जीएम टीएस मर्तोलिया ने बताया कि कैलास मानसरोवर यात्रा रूट के संबंध में विदेश मंत्रालय को प्रस्ताव भेजा गया है। आदि कैलास यात्रा का शेड्यूल भी बनाया जा रहा है। अब तक करीब दो सौ लोगों ने आदि कैलास के लिए संपर्क साधा है। आदि कैलास यात्रा में भी हेली सेवा का प्रस्ताव है। विदेश मंत्रालय स्तर से मंजूरी के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। 

यह भी पढ़ें: कैलास मानसरोवर यात्रा के लिए आवेदन शुरू, ये है आखिरी तारीख

यह भी पढ़ें: इस बार 25 मई को खुलेंगे हेमकुंड साहिब के कपाट

यह भी पढ़ें: बदरीनाथ धाम की सुंदरता पर चार चांद लगाने की तैयारी

Posted By: Raksha Panthari

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप