हल्द्वानी, जेएनएन : रामपुर रोड गली नंबर पांच में किराये के कमरे में जहर खाकर खुदकशी करने वाली महिला के शव का शनिवार को पोस्टमार्टम कराया गया। इसके बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया है। वहीं, परिजनों ने चम्पावत के एक युवक पर महिला को बहलाकर भगाने के बाद धोखा देने का शक जताया है।

भाई के घर आने के बाद से लापता हो गई

बागेश्वर के सुनदिल निवासी खीला (19) उर्फ खुशी देवी पत्नी कमल पपोला का मायका वहीं के पुड़कुनी गांव में था। 17 जनवरी को वह अन्य ग्रामीणों के साथ उत्तरायणी मेला देखने बागेश्वर आई थी। वहां से भाई के घर जाने की बात कहकर वह अन्य ग्रामीणों से अलग हो गई। दो दिन भाई के घर बिताने के बाद वह वहां से भी चली गई।

अविवाहित बता किराए पर रहती थी

20 जनवरी तक ससुराल नहीं पहुंचने पर परिजनों को खुशी के लापता होने का पता चला। वहीं, खुशी खुद को अविवाहित बताकर 30 जनवरी से रामपुर रोड गली नंबर पांच में एक मकान में रह रही थी। शुक्रवार सुबह वह अपने कमरे में मृत मिली। शव के समीप चूहामार कीटनाशक का रैपर पड़ा था। पुलिस ने खुशी के कीटनाशक खाकर खुदकशी करने की आशंका जताई। उसके मोबाइल के रिकार्ड जांचने पर कोई खास जानकारी पुलिस को नहीं मिली।

बागेश्वर पुलिस करेगी मामले की जांच

इधर, मंगलपड़ाव चौकी प्रभारी केएस नेगी ने बताया कि बीते शुक्रवार की देर रात परिजनों के पहुंचने पर शनिवार को शव का पोस्टमार्टम कराया गया। इसके बाद शव परिजनों के सुपुर्द कर दिया गया है। परिजनों ने चम्पावत के सूरज नाम के युवक पर खुशी को बहला-फुसलाकर भगाने का शक जताया है। साथ ही उसके धोखा देने की वजह से खुशी के खुदकशी करने की आशंका जताई है। चौकी प्रभारी ने बताया कि चूंकि खुशी की गुमशुदगी बागेश्वर जिले में दर्ज है। आगे की जांच बागेश्वर जिला पुलिस की ओर से की जाएगी।

यह भी पढ़ें : बरात लेकर गए कार चालक का दूसरे दिन मिला शव, हत्‍या की आशंका

यह भी पढ़ें : सीसीटीवी में कैद हुआ घर के आगे खड़ी बाइक व स्कूटी में आग लगाता युवक 

 

Posted By: Skand Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस