हरिद्वार, जेएनएन। महिला हेल्पलाइन में विवाहिता के मायके और ससुराल पक्ष के लोगों के बीच हुई मारपीट में घायल पति को एम्स ऋषिकेश में भर्ती कराया गया है। पुलिस ने अगले दिन रविवार को विवाहिता और उसके मायके वालों के खिलाफ भी मुकदमा दर्ज कर लिया है। दोनों पक्षों की ओर से क्रास रिपोर्ट दर्ज कराई गई है।

सिडकुल क्षेत्र निवासी आयुषी की शादी वर्ष 2016 में इंद्रा नगर, मुजफ्फरनगर निवासी दीपक अग्रवाल से हुई थी। दहेज को लेकर अनबन होने पर कुछ दिन पहले आयुषी अपने घर आ गई और महिला हेल्पलाइन में शिकायत की। शनिवार को दोनों पक्ष सुनवाई के लिए महिला हेल्पलाइन ज्वालापुर पहुंचे थे। 

उसी दौरान दोनों पक्षों में मारपीट हो गई। आयुषी के भाई शांतनु सिंघल की ओर से उसके पति दीपक अग्रवाल सहित हिमांशु, पंकज गोयल, अक्षय मित्तल और नरोत्तम दास के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था। दूसरे पक्ष की ओर से दीपक के जीजा हिमांशु और पंकज गोयल ने कोतवाली पहुंचकर पुलिस को बताया कि घायल दीपक की हालत गंभीर है और उसे एम्स ऋषिकेश में भर्ती कराया गया है। तहरीर देकर उन्होंने आरोप लगाया कि दीपक पर आयुषी व उसके मायके वालों ने ईंटों से हमला किया है। जिससे दीपक के पेट और सिर पर गंभीर चोटें आई हैं।

यह भी पढ़ें: किसान के घर हथियारबंद बदमाशों का धावा, घायल कर की लूटपाट Haridwar News

पुलिस ने रविवार को तहरीर के आधार पर आयुषी, उसके भाई शांतनू उर्फ सुशांत, राजेंद्र सिंघल, अलका, अतुल और पंकज वर्मा निवासीगण हरिद्वार व दो अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। ज्वालापुर कोतवाल योगेश सिंह देव ने बताया कि विवाहिता का पति दीपक एम्स ऋषिकेश में भर्ती है। उनकी ओर से भी दूसरे पक्ष के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया है। मामले की जांच कर कार्रवाई की जाएगी। 

यह भी पढ़ें: चोरी के इरादे से घर में घुसा युवक चढ़ा लोगों के हत्थे, जमकर पिटा

Posted By: Sunil Negi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस