हरिद्वार, जेएनएन। एक 40 वर्षीय व्यक्ति के स्पेन से लौटने की सूचना पर स्वास्थ्य विभाग और प्रशासन की टीम कनखल पहुंची। टीम ने परिवार वालों से व्यक्ति को क्वरंटीन व्यवस्था के तहत रखने के लिए साथ ले जाने की बात कही। इसके बाद काफी देर तक परिवार और मोहल्ले वालों में इसे लेकर मंथन चला। हालांकि समझाने-बुझाने के बाद आखिरकार व्यक्ति स्वास्थ्य टीम के साथ जाने को राजी हो गया। व्यक्ति को रोशनाबाद स्थित राजकीय नर्सिंग कॉलेज में बने क्वरंटीन फैसिलिटी सेल में रखा गया है।

स्वास्थ्य विभाग को केंद्र सरकार से कनखल में 40 वर्षीय व्यक्ति के छह मार्च को स्पेन से लौटने की सूचना मिली थी। इसके बाद सीएमओ डॉ. सरोज नैथानी ने इसकी सूचना जिलाधिकारी को दी। रविवार शाम सीएमओ डॉ. सरोज नैथानी तहसीलदार आशीष घिल्डियाल के साथ टीम लेकर व्यक्ति के कनखल स्थित घर पहुंची। प्रशासनिक व स्वास्थ्य टीम को देखकर पड़ोस के लोग भी जुट गए। सीएमओ के नेतृत्व में स्वास्थ्य टीम ने व्यक्ति की फौरी तौर पर जांच की। इसके बाद सीएमओ और तहसीलदार ने कोरोना संक्रमण की आशंका को देखते हुए रोशनाबाद के नर्सिंग कॉलेज में बने क्वरंटीन फैसिलिटी सेल में चलने को कहा। इस पर वह मना करने लगा। एक घंटे समझाने के बाद आखिरकार वह टीम के साथ जाने को राजी हुआ। सीएमओ डॉ. सरोज नैथानी ने बताया कि व्यक्ति के स्पेन से लौटने की रिपोर्ट 14 मार्च रात को मिली। इसके बाद उसे चिह्नित कर एहतियात के तौर पर क्वरंटीन फैसिलिटी सेल में रखा गया है। लौटने की तारीख से 14 दिन के बाद उसे पांच दिन तक यहां रखा जाएगा। सब कुछ सामान्य रहने पर घर भेज दिया जाएगा।

क्या हैं क्वरंटीन

क्वरंटीन का शाब्दिक अर्थ है संगरोध। मेडिकल साइंस के अनुसार किसी भी संक्रामक रोग को फैलने से रोकने के लिए संक्रमित या संक्रमण की आशंका वाले लोगों को कुछ समय अलग रखे जाने की प्रक्रिया को क्वरंटीन कहते हैं। केंद्र सरकार की गाइडलाइन के अनुसार विदेश से लौटने वाले लोगों को 14 दिनों तक क्वरंटीन किया जाना है।

विदेश से आए 26 लोगों पर विभाग की नजर

विदेश से आए 26 नागरिकों पर स्वास्थ्य विभाग की नजर है। 10 चिकित्सकों की एक टीम प्रतिदिन इन लोगों के स्वास्थ्य की जांच कर रही है। रविवार को भी टीम विदेश से आए सभी नागरिकों के घर पहुंची और उनके स्वास्थ्य संबंधी जानकारी ली। सभी लोग स्वस्थ हैं। टीम इन लोगों के प्रतिदिन की रिपोर्ट शासन को भेज रही है।

कोरोना वायरस की आशंका को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग बेहद सतर्कता बरत रहा है। विदेश से आने वाले लोगों पर विभाग की विशेष नजर है। रुड़की क्षेत्र में पिछले एक सप्ताह के अंदर 26 लोग विभिन्न देशों से आए हैं। ये सभी स्थानीय लोग ही हैं।

विभाग इन सभी लोगों पर नजर रखे हुए है। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र इमलीखेड़ा के चिकित्सा प्रभारी डॉ. दिली रमन के नेतृत्व में 10 चिकित्सकों की एक टीम स्वास्थ्य कर्मियों के साथ विदेश से आने वाले लोगों की जांच कर रही है। रविवार को भी चिकित्सकों की टीम ने विदेश से आए सभी 26 लोगों के स्वास्थ्य की जांच की। इसके बाद टीम सिविल अस्पताल पहुंची। यहां टीम प्रभारी डॉ. दिली रमन ने टीम के सदस्य चिकित्सकों से विदेश से आए सभी 26 लोगों के स्वास्थ्य की जानकारी ली। डॉ. दिली रमन ने बताया कि सभी लोग स्वस्थ हैं। 28 दिन तक उनकी जांच की जाएगी। प्रतिदिन की रिपोर्ट निदेशालय और सीएमओ को भेजी जा रही है। टीम में डॉ. सागर, डॉ. हरप्रीत, डॉ. कुणाल, डॉ. गौरी, डॉ. आशीष, डॉ. मलिका गोयल, डॉ. पियूष, डॉ. अनुपमा, डॉ. पंकज, डॉ. दीक्षा, रेशमा परवीन आदि के नाम शामिल हैं।

दून में महिला सहित चार के सैंपल जांच को भेजे

जनपद देहरादून में रविवार को चार और कोरोना संदिग्ध लोगों के सैंपल लिए गए हैं। इनमें एक इटालवी महिला एम्स ऋषिकेश में भर्ती है। जबकि एक युवक व युवती को दून मेडिकल कॉलेज चिकित्सालय में डॉक्टरों की देखरेख में रखा गया है। एक अन्य व्यक्ति का सैंपल ओएनजीसी हॉस्पिटल से लिया गया है।

यह भी पढ़ें: Coronavirus: इंदिरा गांधी राष्ट्रीय वन अकादमी के 70 प्रशिक्षु आइएफएस रहेंगे निगरानी में

दून में कोरोना की दस्तक के बाद अब स्वास्थ्य महकमा और भी ज्यादा सर्तकता बरत रहा है। रविवार को भी टीम ने कोरोना संदिग्ध चार लोगों के सैंपल लेकर जांच के लिए हल्द्वानी मेडिकल कॉलेज भेज दिए हैं। मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. मीनाक्षी जोशी के अनुसार सेलाकुई के एक शिक्षण संस्थान में अध्ययरत छात्र अभी दुबई से लौटा है। संस्थान की ही एक छात्र इससे संपर्क में आई इन दोनों में कोरोना के लक्षण पाए गए हैं। जिस पर इनके सैंपल लेकर जांच के लिए भेज दिए गए हैं। दोनों को दून मेडिकल कॉलेज चिकित्सालय के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया गया है। वहीं इटली की महिला का एम्स ऋषिकेश में उपचार चल रहा है। एक व्यक्ति का सैंपल ओएनजीसी अस्पताल से भी लिया गया है।

यह भी पढ़ें: Coronavirus: ऋषिकेश में कोरोना आशंकित विदेशी महिला सहित तीन लोग एम्स में भर्ती

Posted By: Sunil Negi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस