हरिद्वार, जेएनएन। पतंजलि योगपीठ के महामंत्री आचार्य बालकृष्ण को संयुक्त राष्ट्र संघ की ओर से संचालित यूनाइटेड नेशन सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल्स (यूएनएसडीजी) ने प्राथमिक स्वास्थ्य के क्षेत्र में काम कर रहे दुनिया के 10 अत्यंत प्रभावशाली व्यक्तित्व अवॉर्ड से सम्मानित किया है। उन्हें यह अवॉर्ड 25 मई को जेनेवा में होने वाले विशेष सम्मेलन में दिया जाएगा। आचार्य बालकृष्ण इस सम्मेलन को संबोधित भी करेंगे। 

पतंजलि योगपीठ में पत्रकारों से बातचीत में योगगुरु बाबा रामदेव ने कहा कि यह भारतीय आयुर्वेद के साथ-साथ देश के लिए गौरव की बात है कि संयुक्त राष्ट्र संघ के मार्फत पूरी दुनिया ने आयुर्वेद का लोहा माना है। उन्होंने कहा कि हमारा लक्ष्य किसी सूची में स्थान पाना नहीं, बल्कि मानवता की सेवा करना है। पतंजलि विश्व स्वास्थ्य सुधार के क्षेत्र में सालों से कार्य कर रहा है। यूएनएसडीजी प्राइमरी हेल्थ केयर, यूनिवर्सल हेल्थ, गरीबी उन्मूलन, विश्वशांति व समृद्धि के लिए काम करता है। 

आचार्य बालकृष्ण ने बताया कि यूएनओ ने उन्हें 25 मई को जेनेवा में होने वाली यूएनएसडीजी हेल्थ समिट में वक्ता के तौर पर भी आमंत्रित किया है। यह आयोजन वल्र्ड हेल्थ फोरम करा रही है। जिसका लक्ष्य वैश्विक सार्वजनिक स्वास्थ्य और विकास को मंच प्रदान करना है। इस सम्मेलन का उद्देश्य सस्ती प्राथमिक स्वास्थ्य देखभाल, स्वास्थ्य प्रणालियों को मजबूत करना व सामुदायिक, जिला और देश के अनुसार स्वास्थ्य सेवा वितरण में तेजी लाना है। सम्मेलन में नए सरल, पारदर्शी और जवाबदेह लोगों के द्वारा समर्थित नए समाधानों का प्रस्ताव किया जाएगा। सम्मेलन में 50 देशों से लगभग पांच सौ प्रतिभागी भाग लेंगे। 

यह भी पढ़ें: देश की सीमाओं की निगरानी कर सकेंगे रोबोट, दुश्मन पर लगाएंगे निशाना

यह भी पढ़ें: अब डिजिटल प्रणाली से अचूक होगी सेना की संचार व्यवस्था, जानिए कैसे

यह भी पढ़ें: रूपकुंड का है रोचक इतिहास, झील में मछली की जगह मिलते हैं नरकंकाल

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Raksha Panthari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस