जागरण संवाददाता, हरिद्वार।योग गुरु बाबा रामदेव और आइएमए के विवाद में अभिनेता आमिर खान को भी घसीट लिया गया। शनिवार को बाबा रामदेव ने अपने ट्विटर अकाउंट पर आमिर खान के एक कार्यक्रम का वीडियो जारी किया। साथ ही चुनौती दी कि मेडिकल माफियाओं में हिम्मत है तो आमिर के खिलाफ मोर्चा खोलें। इस वीडियो में आमिर खान देश में बिक रही तमाम जरूरी दवाओं की कीमत के निर्धारण को लेकर विशेषज्ञ से बातचीत करते नजर आ रहे हैं। बताया जा रहा कि देश में तमाम लाइफ सेविंग ड्रग के दाम उसकी वास्तविक कीमत से दस से 50 गुना तक ज्यादा लिए जाते हैं। यही वजह है कि देश की तकरीबन 40 करोड़ की आबादी, जिसकी मासिक आय बेहद सीमित है, जरूरी होने पर भी इन्हें नहीं खरीद पाती। कई बार तो दवा के अभाव में ऐसे बीमार की मौत तक हो जाती है।

बाबा का कहना है कि आइएमए को लेकर उनके मौजूदा विरोध का कारण भी यही है। आरोप लगाया कि बड़ी कंपनियां और मेडिकल माफिया करीब दो लाख करोड़ के एलोपैथी दवा कारोबार से अधिकाधिक मुनाफा कमाने के लिए दवा व जरूरी उपकरणों के दाम अनावश्यक रूप से बढ़ाते हैं। तमाम लोग जो इस प्रोफेशन से जुड़े हैं, निजी स्वार्थ के चलते इसे बढ़ावा देते हैं। इसमें शामिल लोग तो मुनाफा कमा लेते हैं, लेकिन आमजन को इसका खमियाजा भुगतना पड़ता है। दावा किया कि उनकी लड़ाई इस नाजायज व्यवस्था के खिलाफ है और वह देश के आम नागरिक को आयुर्वेद के जरिये सस्ता और सर्वसुलभ उपचार दिलाना चाहते हैं। 

बाबा ने कहा कि इससे इन मेडिकल माफियाओं को नुकसान होने का डर सताने लगा है। नतीजा, वह उनके खिलाफ अनर्गल बयानबाजी कर रहे हैं। मानहानि का कानूनी नोटिस भेज और एफआइआर दर्ज कर भयभीत करने की कोशिश कर रहे हैं। लेकिन, वह इस सबसे डरने वाले नहीं। फिर चाहे कोई उनका साथ दे या न दे, सरकार उनका सहयोग करे या न करे, वह इस लड़ाई को अंजाम तक पहुंचा कर ही रहेंगे। बाबा रामदेव ने इस मुद्दे पर इंटरनेट मीडिया में तकरीबन आधे घंटे का लाइव व्याख्यान दिया।

यह भी पढ़ें-बाबा रामदेव ने कहा- जिनकी कोई इज्जत नहीं, वो कर रहे एक हजार करोड़ की मानहानि का दावा 

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

Edited By: Sunil Negi