संवाद सूत्र, रायवाला : उत्तराखंड जन एकता पार्टी (उजपा) के नेता कनक धनाई समेत 33 कार्यकर्त्ताओं की गुरुवार को प्रदर्शन के दौरान की गई गिरफ्तारी के विरोध में उजपा कार्यकर्त्ताओं का रोष व्‍याप्‍त है। कार्यकर्त्‍ताओं ने रविवार को हनुमान चौक रायवाला में विधायक प्रेमचंद अग्रवाल का पुतला दहन कर रोष जताया।

इस दौरान कार्यकर्त्ताओं ने जेल भेजे गए कनक धनाई व एक अन्य कार्यकर्त्ता की शीघ्र रिहाई की मांग की। वक्ताओं ने आरोप लगाया कि क्षेत्र की समस्याओं के निराकरण की मांग को लेकर शांतिपूर्ण ढंग से प्रदर्शन कर रहे नागरिकों को विधायक के इशारे पर गिरफ्तार किया गया। उन्होंने जेल भेजे गए उजपा नेताओं की तुरंत रिहाई की मांग की। कहा कि क्षेत्र की समस्‍या का जनप्रतिनिधि को हल करने के बारे में कार्रवाई करनी चाहिए, लेकिन बीते गुरुवार को मांगों को लेकर प्रदर्शन कर रहे कई कार्यकर्त्‍ता को पुलिस ने गिरफ्तार किया।उन्‍होंने कहा कि क्षेत्र की समस्‍याओं का यदि शीघ्र समाधान होता तो इस तरह किसी को भी सड़कों पर विरोध नहीं करना पड़ता। बताया कि यदि मांग पूरी नहीं हुई तो आगे की रणनीति बनाई जाएगी। 

यह भी पढ़ें- कैबिनेट बैठक : उत्‍तराखंड में आठ फरवरी से खोले जाएंगे कक्षा 6 से 12 तक के सभी स्‍कूल

कार्यकर्त्ताओं ने चेतावनी दी कि जबतक गिरफ्तार किए कार्यकर्त्‍ताओं को रिहा नहीं किया गया तो विरोध प्रदर्शन जारी रहेगा। इस दौरान मनोज नेगी, हेमचंद रावत, सुरेंद्र नेगी, अभिषेक पंवार, राजेश पंत, अक्षय, पीयूष राणा, अजय चमोली, गौरव त्यागी, अंकित खंकरियाल, नीमा, विमला, रेखा, सावित्री, प्रेमा, नालिनी आदि कार्यकर्त्ता मौजूद रहे। 

यह भी पढ़ें- सपा कार्यकर्ताओं ने दिया किसानों को समर्थन, केंद्र और उत्तर प्रदेश सरकार का पुतला फूंका

Edited By: Sumit Kumar