जागरण टीम, देहरादून। Uttarakhand Weather Update उत्तराखंड को फिलहाल बारिश से राहत मिलने की संभावना नहीं है। बदरीनाथ हाईवे गोविंदघाट के पास भूस्खलन से बंद हो गया है, जिसे खोलने का काम जारी है। मौसम विभाग ने सात जिलों के लिए आरेंज अलर्ट जारी कर रविवार से भारी बारिश की आशंका जताई है। वहीं, शनिवार के लिए कुमाऊं के नैनीताल, चम्पावत, बागेश्वर और पिथौरागढ़ के लिए यलो अलर्ट जारी किया गया है। इस दौरान नदी-नालों के किनारे रहने वालों को विशेष सतर्कता बरतने की सलाह दी गई है। मौसम की चेतावनी को देखते हुए आपदा प्रबंधन सचिव एसए मुरुगेशन ने सभी संबंधित जिलाधिकारियों को सजग रहने के निर्देश दिए हैं और आपदा प्रबंधन से जुड़े विभागों के अधिकारियों का स्टेशन न छोड़ने के आदेश दिए हैं।

प्रदेश में एक सप्ताह से मानसून जमकर बरस रहा है। लगातार हो रही बारिश और भूस्खलन से प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में मलबा आने से 170 सड़कें बाधित हैं। इसके अलावा राष्ट्रीय राजमार्गों की स्थिति भी बेहतर नहीं है। बदरीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री के साथ पिथौरागढ़ और में चीन सीमा को जोडऩे वाले मार्ग भी मलबे के कारण बार-बार बाधित हो रहे हैं।

गुरुवार को बंद केदारनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग पर शुक्रवार को यातायात बहाल कर दिया गया। भूस्खलन की दृष्टि से संवेदनशील स्थलों पर सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) और लोक निर्माण विभाग की टीम तैनात की गई हैं। बावजूद इसके दरकते पहाड़ यातायात संचालन में चुनौती बने हुए हैं। इसके अलावा ग्रामीण क्षेत्रों में पैदल मार्ग क्षतिग्रस्त होने से ग्रामीणों को आवाजाही में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। भूधंसाव से कई जगह मकानों को खतरा पैदा हो गया है।

राज्य मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि प्रदेश में मानसून पूरी तरह से सक्रिय है। रविवार और सोमवार को पूरे प्रदेश में भारी से भारी बारिश के आसार बन रहे हैं। विशेषकर देहरादून, टिहरी, पौड़ी, नैनीताल, चम्पावत, बागेश्वर और पिथौरागढ़ में मौसम संवेदनशील रह सकता है। इस दौरान कुछ स्थानों में आकाशीय बिजली गिरने का भी खतरा है।

यह भी पढें- Uttarakhand Weather Update: सात जिलों में भारी बारिश की आशंका, गंगोत्री-यमुनोत्री और बदरीनाथ हाईवे बाधित

Edited By: Raksha Panthri