मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

देहरादून, राज्य ब्यूरो। 66वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों में उत्तराखंड को भी बड़ी कामयाबी हासिल हुई है। उत्तराखंड को मोस्ट फिल्म फ्रेंडली स्टेट का प्रथम पुरस्कार दिया गया है। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि उत्तराखंड को यह पुरस्कार मिलना पर्यटन के लिये शुभ संकेत है। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड सरकार ने फिल्म निर्माताओं की सुविधाओं के लिए आकर्षक फिल्म नीति लागू की है। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्ष 2017 से राज्य में जिन लगभग 220 फिल्मों, धारावाहिक, डाक्यूमेंट्री की शूटिंग की गई है, उनमें मीटर चालू बत्ती गुल, परमाणु, बाटला हाउस, कबीर सिंह, केदारनाथ, नरेंद्र मोदी, स्टूडेंट ऑफ द ईयर-2, डिस्कवरी चैनल पर प्रसारित होने वाला कार्यक्रम मैन वर्सेस वाइल्ड शामिल हैं। उन्होंने कहा कि अब राज्य में शूटिंग के लिए कोई भी शुल्क नही लिया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तराखंड को गत वर्ष राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार के अंतर्गत स्पेशल मेंशन सर्टिफिकेट फॉर फिल्म फ्रेंडली स्टेट प्रदान किया गया था। राष्ट्रीय स्तर पर गठित चयन समिति द्वारा निर्धारित मानकों का परीक्षण कर यह पुरस्कार प्रदान किया जाता है। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तराखंड में बड़ी संख्या में फिल्मों की शूटिंग से स्थानीय कलाकारों व व्यवसायियों को भी लाभ होता है। इससे पर्यटन को बढ़ावा मिलता है। अकेले स्टूडेंट ऑफ द इयर-2 फिल्म की शूटिंग पर फिल्म निर्माता ने राज्य में 13 करोड़ रुपये व्यय किए, जिसका लाभ स्थानीय लोगों को हुआ है। साथ ही जीएसटी के रूप में राज्य सरकार को भी करोड़ों का राजस्व प्राप्त हुआ। उन्होंने कहा कि राज्य में फिल्म शूटिंग स्टूडियो के निर्माण मे निजी संस्थान आगे आए हैं। एक संस्थान कोटद्वार में खुल गया है और दूसरा जल्द देहरादून में शुरू होने वाला है। बड़ी संख्या मे दक्षिण के फिल्मकार भी राज्य के प्रति आकर्षित हुए हैं। 

यह भी पढ़ें: तीन साल की उम्र में शुरू किया गाना, बनी इंडियन टीन पॉप स्टार सेंसेशन

यह भी पढ़ें: इंडियन आइडल ऑडिशन में पहुंचे आठ सौ युवा, बिखेरा आवाज का जादू Dehradun News

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Sunil Negi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप