जागरण संवाददाता, देहरादून: Uttarakhand Coronavirus Update देश में कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ओमिक्रोन की दस्तक से दहशत है। राहत की बात है कि उत्तराखंड में इस वैरिएंट से संक्रमित कोई व्यक्ति नहीं मिला है। शुक्रवार को राज्य में कोरोना संक्रमण के 10 नए मामले मिले। वहीं, पांच मरीज स्वस्थ्य हुए हैं। कोरोना से किसी मरीज की मौत नहीं हुई है। बता दें, राज्य में अब तक कोरोना के तीन लाख 44 हजार 335 मामले मिले हैं। जिनमें तीन लाख 30 हजार 571 (96 प्रतिशत) लोग कोरोना को मात दे चुके हैं।

फिलवक्त यहां कोरोना के 187 सक्रिय मामले हैं। वहीं, कोरोना संक्रमण से अब तक राज्य में 7408 मरीजों की मौत भी हो चुकी है। स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार, निजी व सरकारी लैब से 14 हजार 61 सैंपल की जांच रिपोर्ट प्राप्त हुई है। इनमें 14 हजार 51 की रिपोर्ट निगेटिव आई है। देहरादून में सबसे अधिक छह लोग संक्रमित मिले हैं। इसके अलावा नैनीताल में तीन व चंपावत में एक व्यक्ति संक्रमित पाया गया। जबकि दस जिलों अल्मोड़ा, बागेश्वर, चमोली, हरिद्वार, पौड़ी, पिथौरागढ़, रुद्रप्रयाग, टिहरी, ऊधमसिंहनगर व उत्तरकाशी में कोरोना का कोई नया मामला नहीं मिला है।

61,803 व्यक्तियों को लगा टीका

राज्य में सोमवार को 1032 केंद्रों में 62 हजार 696 व्यक्तियों को कोरोनारोधी टीका लगा। अब तक 76 लाख 8 हजार 438 व्यक्तियों को वैक्सीन की पहली खुराक लग चुकी है, जबकि 52 लाख 49 हजार 420 का पूर्ण टीकाकरण हो चुका है। 18 से 44 आयु वर्ग के भी 46 लाख दो हजार 524 व्यक्तियों को वैक्सीन की पहली खुराक और 28 लाख चार हजार 30 को दोनों खुराक लग चुकी हैं।

यह भी पढ़ें- उत्‍तराखंड: प्रतिबंधित प्लास्टिक कोरोनाकाल में बना जीवन रक्षक, पढ़‍िए पूरी खबर

प्रतिदिन 800 सैंपल लेने का लक्ष्य

रुड़की: कोरोना महामारी की तीसरी लहर के खतरे को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग सतर्क हो गया है। यही वजह है कि सैंपलिंग बढ़ाई जा रही है।

शहर और आसपास के क्षेत्रों में रोजाना 400 आरटी पीसीआर और 400 ही एंटीजन जांच का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। वहीं शुक्रवार को वैक्सीनेशन के लिए 25 टीमें लगाई गई। प्रत्येक टीम में एक-एक वेरिफायर व वैक्सीनेटर की ड्यूटी लगाई गई। रोडवेज बस अड्डा, कलियर बस अड्डा, रेलवे स्टेशन और एसडीएम चौक के समीप भी टीम को तैनात किया गया। वहीं घर-घर जाकर भी टीम ने वैक्सीनेशन का कार्य किया। सेशन साइट इंचार्ज रामकेश गुप्ता ने बताया कि बिशंभर सहाय आयुर्वेदिक मेडिकल कालेज से 18 वांलिटियर मिले हैं। इनमें डाक्टर व नर्सिंग स्टाफ शामिल हैं, जो वैक्सीनेशन में सहयोग करेंगे।

यह भी पढ़ें- PM Modi Jansabha: परीक्षार्थी दें खास ध्यान, कल यातायात प्लान देख ही घर से निकलें; वरना झेलनी पड़ेगी दिक्कत

Edited By: Sumit Kumar