राज्य ब्यूरो, देहरादून। Uttarakhand Chunav 2022 आपराधिक पृष्ठभूमि के प्रत्याशियों की मुश्किलें चुनाव में बढ़ने जा रही हैं। उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव लड़ने जा रहे प्रत्याशियों को अपने आपराधिक मामलों की जानकारी साझा करनी होगी। सभी प्रत्याशी चुनाव आयोग को एक फार्म भरकर देंगे, जिसमें उनसे संबंधित आपराधिक रिकार्ड का ब्योरा भी होगा। राजनीतिक दलों को भी अपनी वेबसाइट पर अपने प्रत्याशियों के यह जानकारी साझा करनी होगी।

चुनाव आयोग ने उम्मीदवारों के आपराधिक पृष्ठभूमि के प्रकाशन के संबंध में गाइडलाइन जारी की है। मुख्य निर्वाचन अधिकारी सौजन्या ने बताया कि उम्मीदवारों को चुनाव अवधि के दौरान स्थानीय और राष्ट्रीय समाचार पत्रों में तीन बार अपनी आपराधिक पृष्ठभूमि से जुड़े वितरण का व्यापक प्रचार-प्रसार करना होगा। रिटर्निंग आफिसर के स्तर से इसकी मानीटरिंग की जाएगी। जिला निर्वाचन अधिकारी इसकी रिपोर्ट संकलित करेंगे।

प्रत्याशियों की उपलब्धि भी बताएंगे दल

मुख्य निर्वाचन अधिकारी के माध्यम से चुनाव आयोग को इसकी रिपोर्ट भी भेजी जाएगी। सौजन्या ने बताया कि सर्वोच्च न्यायालय के आदेश के अनुपालन में क्रिमिनल एंटीसिडेंट्स की प्रक्रिया का सभी को अनुसरण करना अनिवार्य होगा। इसके साथ ही राजनीतिक दलों को अपने प्रत्याशियों की शैक्षिक योग्यता के साथ उनकी उपलब्धियों की जानकारी भी देनी होगी।

आयोग की इस व्यवस्था से दलों को प्रत्याशियों की उपलब्धियों का ब्योरा देने के लिए अच्छी-खासी मशक्कत करनी होगी। एक-दूसरे दल इस पर सिर्फ नजरें ही नहीं रखेंगे, बल्कि यह चुनाव में मुद्दे का रूप लेता दिखाई पड़ सकता है।

तीन जिलों में अब तक 4.25 लाख की बरामदगी

विधानसभा चुनाव की आचार संहिता लागू होने के बाद मशीनरी लगातार हरकत में है। इस क्रम में शुक्रवार को पिथौरागढ़ जिले में 155800 रुपये की नकदी बरामद की गई है। इसके साथ ही 10 जनवरी से अब तक कुल बरामदगी 4.25 लाख रुपये हो गई है। इससे पहले नैनीताल व पिथौरागढ़ जिले में भी नकदी बरामद हुई थी।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार प्रदेशभर में सभी प्रवर्तन इकाइयां मुस्तैदी से अपने कार्य में जुटी हुई हैं। शुक्रवार को विभिन्न स्थानों पर 1239 लीटर अवैध शराब बरामद की गई। इसके अलावा विभिन्न जिलों में आठ अवैध हथियार जब्त किए गए और पांच स्थानों पर छापेमारी की गई। अलग-अलग जिलों में 1716 लाइसेंसी हथियार जमा कराए गए। सभी जिलों में निरोधात्मक कार्रवाई भी निरंतर जारी है।

यह भी पढ़ें- चुनाव से ठीक पहले उत्तराखंड कांग्रेस का लग सकता है झटका, भाजपा में शामिल हो सकता है ये बड़ा चेहरा

Edited By: Raksha Panthri