जागरण संवाददाता, देहरादून। यूनिवर्सिटी आफ पेट्रोलियम एंड एनर्जी स्टडीज (यूपीईएस) के शैक्षणिक सत्र 2020-21 में पांच सौ कंपनियों ने करीब 28 सौ छात्र-छात्राओं का बेहतरीन पैकेज पर चयन किया। चयनित छात्र-छात्राओं में 22 सौ छात्र स्नातक व छह सौ छात्र-छात्राएं परास्नातक के हैं। कई छात्रों को एक से अधिक कंपनी में नौकरी के आफर मिले। वैश्विक कोरोना महामारी के बावजूद विवि के स्कूल आफ इंजीनियङ्क्षरग और स्कूल आफ कम्प्यूटर साइंस में शत फीसद प्लेसमेंट हुआ है।

यूपीईएस के छात्र-छात्राओं का प्लेसमेंट करने वाली कंपनी मुख्य रूप से शोध एवं परामर्श, आइटी, शिक्षा व शिक्षा प्रौद्योगिकी क्षेत्र की हैं। विवि के करीब 65 फीसद छात्र-छात्राओं को कंपनियों में प्रमुख भूमिका वाले पदों के लिए चुना गया। मसलन बिजनेस एनालिस्ट, साइबर सिक्योरिटी एनालिस्ट, आइओटी डेवलेपर, क्वालिटी एनालिस्ट, यूआइ डिजाइनर्स, क्लाउड इंजीनियर, फायर एंड सेफ्टी आडिटर, टेक्नोलाजी एनालिस्ट, स्किल एंड फाइनेंशियल एडवाइजर, गेम प्रोग्रामर्स, आपरेशन एंड मार्केट हेड के पद शामिल हैं। यूपीईएस के कुलपति डा.सुनील राय ने कहा कि खासकर इस अभूतपूर्व समय में और वह भी बिना किसी देरी के प्लेसमेंट्स के ऐसे प्रभावशाली आंकड़े अर्जित करना छात्रों और उनके सफल भविष्य के लिए हमारी प्रतिबद्धता का प्रमाण है।

इन नामी कंपनियों में मिली नौकरी

यूपीईएस से प्लेसमेंट पाने वाले छात्र-छात्राओं को देश की नामी एवं बहुराष्ट्रीय कंपनियों में नौकरी मिली। वैश्विक कारपोरेट कंपनियों में अमेजन, इंफोसिस, काग्रिजेंट, डेल, जेडएस एसोसिएट्स, वेदांता, फ्लिपकार्ड, एरिक्सन, विप्रो, डेलाइट, ईवाय, मारूति, लिंक्डइन, जेनपैक्ट, एक्चेंजर, रायल एनफील्ड, वीएमकेयर, हल्लीबर्टन प्रमुख हैं।

लाकडाउन में 26 सौ छात्रों को इंटर्नशिप

यूपीईएस ने कोरोना महामारी व लाकडाउन की चुनौती से उबरते हुए करीब 26 सौ छात्र-छात्राओं को इंटर्नशिप की व्यवस्था की, ताकि उन्हें उद्योगों का रियल टाइम अनुभव मिल सके और वे अपना ज्ञान और कुशलता का इस्तेमाल कर सकें।

यह भी पढ़ें- उत्तराखंड में समूह ग के पदों पर आयुसीमा में एक वर्ष की छूट, पद विशेष के लिए एक ही बार मिलेगा लाभ

Edited By: Raksha Panthri