देहरादून, [जेएनएन]: चारधाम में यात्रियों की सांसें उखड़ने का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा। शनिवार को केदारनाथ में फिर दो और बदरीनाथ में एक यात्री की हार्ट अटैक से मौत हो गई। इसके साथ ही बदरीनाथ में अब तक पांच और केदारनाथ में 33 यात्रियों की जान जा चुकी है। जबकि, चारों धाम में यह आंकड़ा 54 पहुंच गया है। 

परिजनों के साथ केदारनाथ दर्शनों को आए राजगीर नालंदा (बिहार) निवासी मिश्रीलाल (80 वर्ष) को पैदल मार्ग पर भीमबली के पास सीने में तेज दर्द की शिकायत हुई। पुलिस व एसडीआरएफ की मदद से परिजनों ने मिश्रीलाल को गौरीकुंड स्थित चिकित्सालय पहुंचाया। जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। वहीं, प्रभास पाटन, जूनागढ (गुजरात) निवासी परमार काला भाई (59 वर्ष) की तबीयत भी सीतापुर(रुद्रप्रयाग) में अचानक बिगड़ गई। परिजन उन्हें सीतापुर चिकित्सालय ले गए, जहां उन्होंने दम तोड़ दिया। 

दूसरी ओर, बदरीनाथ यात्रा पर आई गुलबर्गा (कर्नाटक) निवासी पार्वती ढागा(55 वर्ष) जब दर्शन कर वापस लौट रही थीं, तभी लोनिवि गेस्ट हाउस के पास उन्हें सीने में तेज दर्द की शिकायत हुई। इससे पहले कि परिजन पार्वती को अस्पताल पहुंचाते उन्होंने रास्ते में ही दम तोड़ दिया। 

चारों धाम में हार्ट अटैक से इतने यात्रियों की मौत  

बदरीनाथ,  05 

केदारनाथ, 33 

गंगोत्री,      02 

यमुनोत्री,   14 

यह भी पढ़ें: यमुनोत्री यात्रा मार्ग पर तीन तीर्थयात्रियों की हार्ट अटैक से मौत

यह भी पढ़ें: यमुनोत्री दर्शन को जा रहे उड़ीसा के तीर्थयात्री की हृदयगति रुकने से मौत

यह भी पढ़ें: चारधाम यात्रा से लौट रहे यूपी के तीर्थ यात्री की हृदय गति रुकने से मौत

Posted By: Raksha Panthari

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप