देहरादून, जेएनएन। आठवीं राज्य स्तरीय प्रारंभिक शिक्षा खेल-कूद एवं सांस्कृतिक प्रतियोगिता का शानदार आगाज को हुआ। प्रतियोगिता में एथलेटिक्स स्पर्धओं में प्रतिभाग करने सभी जिलों से लगभग तीन हजार छात्र जुटे हैं। चार दिवसीय समारोह के पहले दिन दौड़, गोला फेंक और चक्का फेंक की स्पर्धाएं हुईं। 

महाराणा प्रताप स्पोर्ट्स कॉलेज में प्रतियोगिता का शुभारंभ करते हुए शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे ने आयोजन के लिए शिक्षा विभाग और सभी छात्रों को बधाई दी। उन्होंने छात्रों को बढ़चढ़ कर प्रतिभाग कर राष्ट्रीय स्तर पर प्रदेश का प्रतिनिधित्व करने को कहा। कार्यक्रम में कई शिक्षक और संगठन मंत्री से अपनी मांगों को लेकर चर्चा करने लगे। 

अपने संक्षिप्त भाषण में उन्होंने शिक्षकों की मांगों पर आचार संहिता खत्म होने के बाद विचार करने का आश्वासन दिया। इससे पहले शिक्षा मंत्री ने ध्वजारोहण कर परेड की सलामी ली। उन्होंने प्रतिभागियों को खेल भावना की शपथ दिलाई।

कार्यक्रम में स्कूली छात्रों ने एक से बढ़कर एक सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुतियां दीं। छात्रों के गढ़वाली और बॉलीवुड गीतों की नृत्य प्रस्तुतियों का लोगों ने खूब आनंद उठाया। कार्यक्रम का संचालन विरेंद्र सिंह कृषाली और रघुबीर सिंह पुंडीर ने किया। 

कार्यक्रम में अपर सचिव शिक्षा रवनीत चीमा, प्रारंभिक शिक्षा निदेशक आरके कुंवर, अपर निदेशक वीएस रावत, जिला शिक्षा अधिकारी राजेंद्र सिंह रावत, जूनियर हाइस्कूल शिक्षक संघ अध्यक्ष विनोद थापा, महामंत्री राजेंद्र प्रसाद बहुगुणा, कोषाध्यक्ष सतीश घिल्डियाल, उपाध्यक्ष उदयपाल सिंह नेगी समेत अन्य लोग मौजूद रहे।

600 मीटर दौड़ में अमित और निकिता ने बाजी मारी

खेल प्रतियोगिताओं में पहले दिन 600 मीटर दौड़ का ही परिणाम आ सका। पहले दिन की प्रतियोगिता में बालक वर्ग में ऊधमसिंह नगर के अमित यादव ने पहला, बागेश्वर के अनुज कुमार ने दूसरा और चमोली के संदीप चौहान ने तीसरा स्थान हासिल किया। बालिका वर्ग में पिथौरागढ़ की निकिता कार्की ने पहला, देहरादून की ईशु चौहान ने दूसरा और चमोली की भूमिका मिश्रा ने तीसरा स्थान हासिल किया। 

शिक्षा सचिव की जगह खेल मंत्री हो गए मुख्य अतिथि

आठवीं राज्य स्तरीय प्रारंभिक शिक्षा खेल-कूद एवं सांस्कृतिक प्रतियोगिता में विद्यालयी शिक्षा सचिव आर मिनाक्षी सुंदरम बतौर मुख्य अतिथि आने वाले थे। जब कि शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे आयोजन में शिरकत के लिए मना कर चुके थे। हुआ इसके उलट, शासन में बैठक के चलते शिक्षा सचिव कार्यक्रम में नहीं पहुंचे, मंत्री अरविंद पांडे आयोजकों को फोन पर सूचना देकर यहां पहुंच गए। कार्यक्रम के मुख्य फ्लैक्स पर मुख्य अतिथि का नाम भी नहीं बदला जा सका।

यह भी पढ़ें: फेडरेशन कप के लिए उत्तराखंड की 15 सदस्यीय टीम चयनित

शिक्षकों ने खेल बजट बढ़ाने की मांग की

लंबे समय से प्राथमिक स्तर के खेलों के लिए स्कूलों के बजट में बढ़ोत्तरी नहीं हुई है। शिक्षकों ने खेल और शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे के समक्ष बजट बढ़ाने की मांग की। जूनियर हाईस्कूल शिक्षक संघ के प्रांतीय अध्यक्ष विनोद थापा ने बताया कि वर्तमान में संकुल स्तर के लिए एक हजार, ब्लाक स्तर के लिए नौ हजार, जिला स्तर के लिए 43 हजार और राज्य स्तर के लिए दो लाख 17 हजार रुपये बजट तय है। कहा कि छात्र संख्या और आधुनिक खर्चे के हिसाब से यह पर्याप्त नहीं है।

यह भी पढ़ें: बाईचुंग भुटिया ने हिमगिरि जी यूनिवर्सिटी में दिए हेल्थ टिप्स Dehradun News

Posted By: Bhanu

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस