v>देहरादून, [जेएनएन]: प्रदेश में मौसम ने रंग बदलना शुरू कर दिया है। इससे पारे की उछाल पर तो अंकुश लगा, लेकिन बारिश की उम्मीद लगाए लोगों को बादल दगा दे गए। हालांकि शाम से बदरीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री व यमुनोत्री के अलावा हेमकुंड साहिब और पिथौरागढ़ की पहाड़ियों पर बर्फबारी शुरू हो गई है 

सोमवार को राज्य में ज्यादातर स्थानों पर सुबह से ही बादलों के साथ सूरज की आंख मिचौनी जारी रही। गढ़वाल में पौड़ी, चमोली, रुद्रप्रयाग और देहरादून के साथ ही कुमाऊं के अल्मोड़ा, नैनीताल व चम्पावत में बादल छाए हुए हैं। 
मौसम में ठंडक बढ़ने के साथ ही अधिकतम तापमान में औसतन चार से पांच डिग्री सेल्सियस की कमी आई है। मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार देहरादून, मसूरी, चकराता और कुमाऊं के पिथौरागढ़ में बारिश और ओलावृष्टि की संभावना है। मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह के अनुसार इस बार जनवरी में महज 33 फीसद बारिश हुई है। ऐसे में किसानों और सेब उत्पादकों के माथे पर चिंता की लकीरें गहराई हुई है।

Posted By: Sunil Negi