जागरण टीम, देहरादून। Photo/Video उत्तराखंड में बारिश आफत बनकर बरस रही है, जिसने लोगों की दुश्वारियों को बढ़ा दिया है। हालात ये हैं कि कहीं पुल टूटने से गाड़ियां फंसकर क्षतिग्रस्त हो गईं तो कहीं बादल फटने से मकान ध्वस्त हो गए। नदियों ने भी रौद्र रूप ले लिया और अपने रास्ते में आने वाली हर चीज को खत्म करने की कोशिश की। इससे लोगों में दहशत है। इतना ही नहीं, सड़कों पर भी मौसम की काफी मार पड़ी। बदरीनाथ और गंगोत्री हाइवे पर यातायात बंद करना पड़ा। इसके साथ ही प्रदेशभर में कई सड़कें बाधित हैं। ये हैं कुछ डराने वाली तस्वीरें...

उस वक्त अचानक हड़कंप मच गया, जब रानीपोखरी के ऊपर ध्वस्त हो गया। देखते ही देखते कुछ गाड़ियां बह गईं और कुछ फंस गई। पुल के टूटने से ऋषिकेश से देहरादून, डोईवाला, रानीपोखरी आदि क्षेत्रों में आने वाले ट्रैफिक को ऋषिकेश नटराज से नेपाली फार्म को होकर देहरादून भेजा जा रहा है।

वहीं, देहरादून से रानीपोखरी ऋषिकेश को जाने वाला ट्रैफिक भानियावाला हरिद्वार बाईपास नेपाली फार्म से होकर ऋषिकेश भेजा जा रहा है। वहीं, थानो भोगपुर मार्ग पर भी पानी के बहाव को देखते हुए ट्रैफिक रोका गया है।

विकासनगर के पष्टा क्षेत्र के जाखन गांव में बादल फटने से एक मकान ध्वस्त हो दगया। हादसे में एक शख्स की मलबे में दबकर मौत हो गई। वहीं, दर्जनों किसानों के खेतों में मलबा आने से फसलों को नुकसान पहुंचा है। वहीं, तीन पावर हाउसों में बिजली उत्पादन ठप हो गया, मात्र दो पावर हाउसों छिबरौ और खोदरी में जनरेशन चल रहा है।

(गंगोत्री हाईवे फकोट के पास बंद)

बदरीनाथ हाइवे पर पत्थर और मलबा गिरने के कारण यातायात पर पूरी तरह रोक दिया गया है। वहीं, गंगोत्री हाइवे पर फकोट के पास आलवेदर रोड का हिस्सा बहने से यहां भी आवाजाही पर रोक लगाने के टिहरी जिलाधिकारी इवा आशीष श्रीवास्तव ने आदेश दिए हैं।

रातभर हुई भारी बारिश के कारण सहस्रधारा में नदी उफान पर आ गई, जिसके चलते भू कटाव के कारण सड़क का एक हिस्सा बह गया। खैरी मान सिंह में बारिश से सड़क और पुस्ते को काफी नुकसान पहुंचा है।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने भारी बारिश के कारण नदी में अधिक पानी आ जाने से क्षतिग्रस्त सहस्त्रधारा-मालदेवता मार्ग का स्थलीय निरीक्षण किया और जिलाधिकारी को नदी को चैनलाइज करने और सड़क के क्षतिग्रस्त भाग को जल्द से जल्द दोबारा ठीक कराने के निर्देश दिए।

नदियों के उफान पर आने से विकासनगर में हरिपुर बस्ती व कोर्ट रोड, पांवटा रोड पर भरा पानी, कोर्ट रोड स्थित दुकानों और पंजाब नेशनल बैंक की शाखा में पानी भर गया। उधर, आसन और शीतला नदी में उफान से सहसपुर, खुशहालपुर, जस्सोवाला, छरबा, लक्खनवाला में किसानों की जमीनों और ग्रामीणों के घरों को बड़े पैमाने पर नुकसान पहुंचा है।

ऋषिकेश में चंद्रभागा नदी का जलस्तर बढ़ने से न्यू त्रिवेणी कालोनी और चंद्रेश्वर के लोगों डर का माहौल बन गया है। दरअसल, अब चंद्रभागा नदी इन दोनों कालोनियों की ओर अपना रुख मोड़ा है। इससे पहले बीते रोज चंद्रभागा का रुख मायाकुंड की ओर था।

यह भी पढ़ें- Video: जौलीग्रांट एयरपोर्ट और ऋषिकेश के बीच रानीपोखरी का पुल ध्वस्त, वाहन नदी में गिरे; जांच के आदेश

Edited By: Raksha Panthri