जागरण संवाददाता, देहरादून। Uttarakhand Weather Update: राज्य में मानसून की बारिश का दौर इस हफ्ते भी जारी रहेगा। इस दौरान कुमाऊं मंडल के नैनीताल, बागेश्वर व चंपावत में गुरुवार को कहीं-कहीं एक से दो दौर भारी बारिश के होने की संभावना है। बुधवार को चमोली, रुद्रप्रयाग, उत्तरकाशी, टिहरी एवं पौड़ी जनपदों में हल्के से लेकर घने बादल छाये रहे। कुछ जगह हल्की बारिश भी हुई। दून व मसूरी में दिनभर बारिश से राहत रही। उधर, कुमाऊं में मौसम का मिजाज बदला रहा। नैनीताल में ठंडी सड़क में फिर भूस्खलन होने से लोनिवि की ओर से किया गया ट्रीटमेंट का काम मलबे में तब्दील हो गया है। वहीं, आज यमुनोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग पर धरासू बैंड के निकट भूस्खलन हुआ है, जिससे मार्ग बाधित हो गया है। एनएच की टीम मार्ग को सुचारू करने में जुटी है।

कुमाऊं विवि के हास्टल के बरामदे में दरारें और चौड़ी हो गई हैं। नैनीताल में झमाझम बारिश से झील भी लबालब भरी हुई है। चंपावत जिले में बारिश के बाद मलबा आने से सुबह चंपावत-टनकपुर हाईवे बंद हो गया। पिथौरागढ़ जिले में तेज गरज के साथ जमकर बारिश हुई। पिथौरागढ़ जिला मुख्यालय सहित सीमांत तहसीलों में बारिश के बाद तापमान में हल्की गिरावट आ गई है। जिले में छह मोटर मार्ग अभी भी बंद पड़े हैं। दारमा घाटी को जोड़ने वाली रोड नहीं खुल पाई। कैलास मानसरोवर यात्रा मार्ग 48 घंटे बाद आवागमन के लिए खुल गया।

--------------------- 

बोलेरो दुर्घटना में चालक की मौत

जनपद पौड़ी गढ़वाल के अंतर्गत बीरोंखाल बाजार के पास एक बोलेरो वाहन दुर्घटनाग्रस्त हो गया, जिससे वाहन चालक की मौके पर ही मौत हो गई। बीरोंखाल प्रखंड के अंतर्गत ग्राम कोटरी मल्ला निवासी 40 वर्षीय सुखवीर सिंह बुधवार शाम अपने कुछ साथियों के साथ बोलेरो वाहन से बीरोंखाल आए। बीरोंखाल बाजार पहुंचने पर उनके साथी बैंक में चले गए, जबकि सुखबीर सिंह गाड़ी को बैक करने लगे। इसी दौरान वाहन अनियंत्रित होकर करीब 300 मीटर नीचे डुमैला-पखोली सड़क पर गिर गया। दुर्घटना में सुखवीर गंभीर रूप से घायल हो गए। साथियों ने गंभीर हालत में उन्हें सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बीरोंखाल पहुंचाया। सीएचसी बीरोंखाल के प्रभारी शैलेंद्र सिंह ने बताया कि सुखबीर सिंह को जब स्वास्थ्य केंद्र में लाया गया, उनकी मौत हो चुकी थी।

यह भी पढ़ें:- Uttarakhand Weather Update: आज देहरादून समेत तीन जिलों में भारी बारिश की चेतावनी

Edited By: Sunil Negi