राज्य ब्यूरो, देहरादून: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पांच नवंबर को केदारनाथ आ रहे हैं। इस दौरान वह बाबा केदार के दर्शन के साथ ही केदारनाथ में द्वितीय चरण के पुनर्निर्माण कार्यों का शिलान्यास कर सकते हैं। माहभर के भीतर प्रधानमंत्री का यह दूसरा उत्तराखंड दौरा होगा। उधर, केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री अमित शाह भी 29 व 30 अक्टूबर को उत्तराखंड दौरे पर रहेंगे। वह सहकारिता विभाग की मुख्यमंत्री घसियारी कल्याण योजना की लांचिंग भी करेंगे।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की केदारनाथ धाम के प्रति अगाध आस्था है। उन्हें जब भी समय मिलता है, वह बाबा केदार के दर्शनों को आते हैं। पिछले साल कोरोना संकट के चलते वह केदारनाथ नहीं आ पाए थे। अब जबकि कोरोना संक्रमण के मद्देनजर स्थिति नियंत्रण में है तो प्रधानमंत्री के जल्द ही केदारनाथ आने की संभावना जताई जा रही थी।सात अक्टूबर को प्रधानमंत्री एम्स ऋषिकेश में आक्सीजन प्लांट के लोकार्पण के सिलसिले में आए थे। तब माना जा रहा था कि वह केदारनाथ भी जाएंगे, लेकिन उनका वहां का कार्यक्रम नहीं बन पाया। अब प्रधानमंत्री पांच नवंबर को केदारनाथ आ रहे हैं। इस दौरान वह केदारनाथ में आदि शंकराचार्य की प्रतिमा का लोकार्पण करने के साथ ही द्वितीय चरण के पुननिर्माण कार्यों का शिलान्यास कर सकते हैं।

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने प्रधानमंत्री के पांच नवंबर के प्रस्तावित केदारनाथ दौरे की पुष्टि की। उन्होंने बताया कि पहले प्रधानमंत्री की जनसभा का कार्यक्रम भी निर्धारित किया जा रहा था, लेकिन चार नवंबर को दीपावली होने के कारण यह संभव नहीं हो पा रहा।उधर, केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री अमित शाह 29 व 30 अक्टूबर को उत्तराखंड प्रवास पर रहेंगे। सूत्रों के अनुसार दो दिवसीय प्रवास के दौरान वह एक दिन हरिद्वार अथवा ऋषिकेश में निजी दौरे पर रहेंगे, जबकि एक दिन सरकारी कार्यक्रमों व पार्टी संगठन को देंगे। इस दौरान वह सहकारिता विभाग की मुख्यमंत्री घसियारी कल्याण योजना की लांचिंग भी करेंगे। इसे लेकर सहकारिता विभाग ने तैयारियां शुरू कर दी हैं।

यह भी पढ़ें- आज तय होगी बदरीनाथ धाम के कपाट बंद होने की तिथि, पांच नवंबर को बंद होंगे गंगोत्री धाम के कपाट

Edited By: Sumit Kumar