देहरादून, [जेएनएन]: उत्तराखंड में मानसून की रफ्तार धीमी हो गई है। अक्टूबर के प्रथम सप्ताह में मानसून की विदाई हो सकती है। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आइएमडी) के मुताबिक, 28 सितंबर से राजस्थान से मानसून विदा होगा। इसके बाद उत्तर भारत के पहाड़ी राज्य जम्मू-कश्मीर, हिमाचल एवं उत्तराखंड से अक्टूबर के प्रथम सप्ताह में मानसून विदा होने के आसार हैं। 

देश में हर वर्ष मानसून एक जून से 30 सितंबर के बीच सक्रिय रहता है। मानसून सीजन के करीब चार माह में बारिश का दौर किसी राज्य में औसत से अधिक तो कहीं मध्यम रिकॉर्ड किया जाता है। 

मौसम विभाग देहरादून के निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि उत्तराखंड में मानसून की रफ्तार धीमी पड़ चुकी है, अब इसके सक्रिय होने की संभावना कम है। अक्टूबर प्रथम सप्ताह के अंत तक प्रदेश से मानसून की विदाई हो सकती है।

पहाड़ों में हल्की बारिश के आसार 

राज्य के पहाड़ी इलाकों में अगले 24 घंटों के दौरान हल्की बारिश के आसार हैं। अधिक ऊंचाई वाले पर्वतीय इलाकों में बर्फबारी हो सकती है। निचले पहाड़ी क्षेत्र व कुछ मैदानी इलाकों में हल्के बादल छाए रह सकते हैं। दून में हल्के बादलों के बीच धूप खिली है। जिससे अधिकतम तापमान में सामान्य से तीन डिग्री अधिक 31.3 व न्यूनतम तापमान सामान्य से एक डिग्री अधिक 20.5 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया।

यह भी पढ़ें: उच्च हिमालयी क्षेत्र में ग्लोबल वार्मिंग का असर, 0.5 डिग्री सेल्सियस बढ़ा तापमान

यह भी पढ़ें: जलवायु परिवर्तन के संकट से जूझ रहा हिमालय, गड़बड़ा गया है वर्षा का चक्र

यह भी पढ़ें: केदारनाथ में 8000 साल पहले पड़ती थी भीषण गर्मी, तेजी से पिघलते थे ग्लेशियर

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Bhanu