जागरण संवाददाता, देहरादून : विधानसभा चुनाव शांतिपूर्ण रूप से संपन्न कराने के लिए पुलिस उपमहानिरीक्षक गढ़वाल रेंज करन सिंह नगन्याल ने सीमावर्ती राज्यों के पुलिस अधिकारियों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से मीटिंग की। उन्होंने बार्डर पर चेक पोस्टों व आवागमन मार्गों पर निरंतर चेकिंग एवं पेट्रोलिंग करने के निर्देश दिए हैं। इसके अलावा देहरादून, हरिद्वार, पौड़ी गढ़वाल व उत्तरकाशी के एसएसपी को बार्डर चेक पोस्टों पर सीसीटीवी कैमरे लगाने को कहा है।

डीआइजी ने बताया कि गढ़वाल रेंज के कई बार्डर चेक पोस्ट ऐसे हैं, जहां पर अभी तक सीसीटीवी कैमरे नहीं लगे हैं। ऐसे में इन चेक पोस्टों पर गड़बड़ी हो सकती है। उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया कि वह अपने-अपने वाट्सएप ग्रुप बना लें। उन्‍होंने यह भी कहा कि आपातकालीन स्थिति में यदि फोन नहीं उठ रहा है तो वह वाट्सएप के माध्यम से भी जानकारी साझा कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें- यहां शहर में लगा दुष्कर्म को लेकर महिलाओं पर आपत्तिजनक टिप्पणी करता पोस्टर, डीजीपी से शिकायत

जल्द ही बदमाशों की धरपकड़ की जाएगी

इस दौरान गढ़वाल रेंज से सटे सीमावर्ती जिला मुजफ्फरनगर, बिजनौर, सहारनपुर, सिरमौर व शिमला को वारंटियों, वांछित व इनामी बदमाशों की सूची आदान प्रदान की गई। डीआइजी ने कहा कि जल्द ही बदमाशों की धरपकड़ की जाएगी। उन्होंने चुनाव शांतिपूर्ण संपन्न कराने के लिए सीमावर्ती राज्यों से सटे गांवों, आवागमन के मार्गों, तस्करी के संभावित छोटे मार्गों की सूची भी जारी करने के लिए कहा है। बार्डर मीटिंग में एसएसपी देहरादून जन्मेजय खंडूड़ी, एसपी सिटी सरिता डोबाल, एसपी देहात कमलेश उपाध्याय, हरिद्वार जिले के एसएसपी योगेंद्र सिंह रावत, मुरादाबाद के डीआइजी शलभ माथुर, एसपी बिजनौर धर्मवीर सिंह, एसपी सिटी प्रवीन रंजन, हिमाचल प्रदेश से एसपी सिरमौर, एसपी शिमला और हरियाणा के सीओ हेडक्वाटर भी शामिल रहे।

यह भी पढ़ें- कोरोना के हल्के लक्षण भी हैं तो वैक्सीन से पहले कराएं जांच, जानिए क्या है डाक्टरों की सालह

Edited By: Sumit Kumar