जागरण संवाददाता, देहरादून: स्वभाव से शांत और शर्मिले पहाड़ियों का फैशन और स्वैग इन दिनों इंटरनेट मीडिया पर खूब छाया हुआ है। जिसके रंग में न केवल युवा वर्ग बल्कि सेलिब्रिटी और अधिकारी भी रंगे नजर आ रहे है। इस फैशन को सभी पहाड़ी नथ और टोपी पहने हुए फोटो के साथ हैशटेग पहाड़ी चैलेंज के स्टेटस के माध्यम से बढ़ा रहे है। हाल ही में उत्तराखंड के डीजीपी अशोक कुमार ने भी ट्वीटर पर पहाड़ी टोपी चैलेंज स्वीकार करते हुए फोटो शेयर की है। जिसे युवाओं द्वारा खूब वायरल किया जा रहा है। 

 इन दिनों इंटरनेट मीडिया पर राजनीतिक दल के पदाधिकारियों व कार्यकर्त्‍ताओं से लेकर शिक्षक वर्ग और सामाजसेवियों में भी पहाड़ी टोपी और नथ के साथ फोटो फेसबुक और वाट्सएप पर अपलोड करने का क्रेज बढ़ गया है।  यहां पुरुष पहाड़ी टोपी पहन कर फोटो इंटरनेट मीडिया पर पोस्ट कर रहे हैं तो वहीं महिलाएं पहाड़ी रीति रिवाज के तहत नथ और पिछौड़ा पहन लोगों को पुरानी संस्कृति से जागरूक करने का चैलेंज कर रहे हैं। बीते एक सप्‍ताह से यह क्रेज इंटरनेट मीडिया पर छाया है।

यह भी पढ़ें : डायट विशेषज्ञों ने दिए इम्यूनिटी बूस्ट करने के टिप्स, इन बातों का भी रखें ध्यान

लोकगा‍यिका संगीता ढौंडियाल का कहना है कि संस्कृति से जुड़े रहने के लिए इंटरनेट मीडिया बेहतहर माध्‍यम बन गया है। कई युवा पहाड़ी टोपी और नथ को सही तरह से नहीं जानते थे, वह अब इसकी डिजाइन के बारे में एक दूसरे से इंटरनेट मीडिया पर ही चर्चा कर रहे हैं। रंगकर्मी राजेंद्र चौहान बताते हैं कि पहाड़ की संस्कृति और विरासत को बनाए रखने के लिए यह चैलेंज कर रहे हैं। अच्‍छी बात यह है कि पुरुषों के अलावा महिलाएं भी इसमें काफी शामिल हो रही हैं। 

यह भी पढ़ें :अभिनेता अनुपम खेर ने दून की बच्‍ची का वीडियो किया शेयर, उसके विचारों से हुए प्रभावित; जानिए बच्‍ची ने ऐसा क्‍या कहा

 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021