ऋषिकेश, [जेएनएन]: पौड़ी जनपद के यमकेश्वर ब्‍लॉक में बनचूरी न्याय पंचायत के सौरा गांव के समीप एक मैक्स वाहन गहरी खाई में जा गिरा। दुर्घटना में तीन लोगों की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि चालक ने ऋषिकेश एम्स में दम तोड़ दिया है। वहीं, हादसे में सात लोग घायल हो गए।

जानकारी के मुताबिक, शुक्रवार सुबह एक मैक्स कार (यूके 07टीसी- 1304) सवारियां लेकर देहरादून से बनचूरी के लिए जा रहा था। लक्ष्मणझूला-दुगड्डा मार्ग पर नालीखाल से बनचूरी के लिए जाने वाली लिंक रोड पर बनचूरी से करीब तीन किलोमीटर पहले सौरा गांव के समीप जिबलधार बैंड पर प्रात: करीब साढ़े 11 बजे अचानक मैक्स वाहन अनियंत्रित होकर खाई में जा गिरा। 

दुर्घटना की सूचना मिलते ही आसपास के ग्रामीण मौके पर पहुंचे। सूचना पाकर राजस्व उपनिरीक्षक उदयपुर मल्ला रिजवान खान व लक्ष्मणझूला पुलिस मौके पर पहुंची। ग्रामीणों ने गहरी खाई में रेस्क्यू चलाकर किसी तरह घायलों को बाहर निकाल कर प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र बनचूरी पहुंचाया। दुर्घटना में जसपाल (30 वर्ष) पुत्र आनंद सिंह निवासी ग्राम बघाला गोदी, यमकेश्वर, उषा देवी (40 वर्ष) पत्नी ध्यान सिंह निवासी ग्राम बगोडगांव यमकेश्वर व विक्रम सिंह (65 वर्ष) पुत्र विजय सिंह निवासी उरगांव यमकेश्वर पौड़ी गढ़वाल की मौके पर ही मौत हो गयी, जबकि मैक्स चालक मुकेश सिंह (36 वर्ष) पुत्र आनन्द सिंह निवासी ग्राम तिमली ने एम्स ऋषिकेश में उपचार के दौरान दम तोड़ दिया।

घायलों में रवीना (12 वर्ष) पुत्री सोहन सिंह, माहेश्वरी देवी (31 वर्ष) पत्नी सोहन सिंह व सरिता देवी (30 वर्ष) पत्नी राजेन्द्र सिंह तीनों निवासी ग्राम बडकोट, सते सिंह (60 वर्ष) पुत्र मूली सिंह निवासी ग्राम सौरा, पूनम (18 वर्ष) पुत्री चन्द्र सिंह, निवासी ग्राम बगोडगांव, विक्रम सिंह (22 वर्ष) पुत्र पूरण सिंह निवासी ग्राम चोपड़ा मल्ला, सुमन देवी (25 वर्ष) पत्नी धर्मेन्द्र सिंह निवासी ग्राम बडकोट शामिल हैं। सभी घायलों का एम्स ऋषिकेश में उपचार किया जा रहा है। ग्राम प्रधान संगठन के ब्लाक अध्यक्ष दिनेश भट्ट ने बताया कि एम्स में भर्ती घायलों में से दो की हालत अभी भी गंभीर बनी हुई है।

यह भी पढ़ें: पिथौरागढ़ में आइटीबीपी की बस खाई में गिरी, दो की मौत; दो घायल

यह भी पढ़ें: बरातियों से भरी मारुती वैन खाई में गिरी, चार लोग गंभीर घायल   

यह भी पढ़ें: पिथौरागढ़ में मैक्स वाहन खाई में गिरा, चालक की मौत

Posted By: Bhanu