राज्य ब्यूरो, देहरादून: विधानसभा चुनाव के नामांकन को अब जबकि शुक्रवार को अंतिम दिन है तो भाजपा ने शेष रह गईं 11 सीटों में से 10 पर प्रत्याशियों के नाम का एलान कर दिया, जबकि एक पर सहमति बन गई है। गुरुवार को भाजपा में शामिल हुए कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय को पार्टी ने टिहरी सीट से उम्मीदवार बनाया है। कोटद्वार सीट पर पार्टी ने यमकेश्वर से विधायक एवं पूर्व मुख्यमंत्री भुवन चंद्र खंडूड़ी की पुत्री ऋतु खंडूड़ी को प्रत्याशी बनाया है। इसके साथ ही भाजपा ने झबरेड़ा, रुद्रपुर व लालकुंआ से विधायकों के टिकट पर कैंची चलाई है।

भाजपा ने विधानसभा की 70 में से 59 सीटों पर प्रत्याशियों की पहली सूची 20 जनवरी को जारी की थी। गढ़वाल मंडल की छह और कुमाऊं मंडल की पांच फंसी हुई सीटों पर प्रत्याशी चयन के मद्देनजर पार्टी तब से मंथन में जुटी थी। कुछ सीटें जातीय व सामाजिक समीकरणों की वजह से उलझी हुई थीं।

भाजपा के प्रांतीय और केंद्रीय नेतृत्व के बीच हुई कई दौर की वार्ता के बाद पार्टी ने बची हुई सीटों की गुत्थी को सुलझाने में कामयाबी पाई। बुधवार रात को नौ प्रत्याशियों की सूची जारी की गई, जबकि टिहरी सीट पर प्रत्याशी की घोषणा गुरुवार को हुई। डोईवाला सीट को लेकर देर शाम तक मंथन जारी था।

ऋतु को कोटद्वार से टिकट

भाजपा महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष एवं यमकेश्वर से विधायक ऋतु खंडूड़ी का पहली सूची में टिकट काट दिए जाने से संगठन में उपजे असंतोष को थामने के मद्देनजर अब पार्टी ने उन्हें कोटद्वार सीट से प्रत्याशी घोषित किया है। पार्टी को भरोसा है कि यहां पूर्व मुख्यमंत्री भुवन चंद्र खंडूड़ी की विरासत का फायदा मिलने के साथ ही वह सहानुभूति कार्ड भी खेलेगी।

कांग्रेस से आने वालों को सम्मान

कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुए नेताओं को पार्टी ने सम्मान देने में देरी नहीं लगाई। इनमें मुख्य नाम है कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय का। उनके लंबे समय से भाजपा में शामिल होने की चर्चा थी, लेकिन वे पूर्व में वह इससे इन्कार करते रहे। इस बीच बुधवार को कांग्रेस ने उपाध्याय को पार्टी से निष्कासित कर दिया था। गुरुवार सुबह उपाध्याय प्रदेश भाजपा कार्यालय पहुंचे और प्रदेश चुनाव प्रभारी प्रल्हाद जोशी, प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक समेत अन्य नेताओं की मौजूदगी में भाजपा की सदस्यता ग्रहण की। इसके साथ ही पार्टी ने उन्हें टिहरी से प्रत्याशी भी घोषित कर दिया।

तीन विधायकों के काटे टिकट

पाटी ने दूसरी सूची में तीन विधायकों देशराज कर्णवाल (झबरेड़ा), राजकुमार ठुकराल (रुद्रपुर) व नवीन चंद्र दुम्का (लालकुंआ) के टिकट काट दिए। बताया गया कि पार्टी की ओर से कराए गए सर्वे में इन विधायकों की परफार्मेंस आशानुरूप नहीं थी।

नौ विधायकों को साधने में जुटी भाजपा

विधानसभा चुनाव के लिए इस बार भाजपा ने अपने जिन 11 विधायकों के टिकट काटे हैं, उनमें से नौ को साधने में पार्टी ने पूरी ताकत झोंक दी है। दो विधायकों में एक ने पालाबदल कर लिया है तो दूसरे ने स्वयं का संगठन बनाकर चुनाव मैदान में निर्दल ताल ठोकने का एलान किया है। शेष रह गए नौ विधायकों से संवाद के लिए प्रांतीय पदाधिकारियों के साथ ही सांसद और पूर्व मुख्यमंत्रियों को मोर्चे पर लगाया गया है।

यह भी पढ़ें: जानिए किशोर उपाध्‍याय के बारे में, जो कांग्रेस छोड़ भाजपा में हुए शामिल; यहां से मिला टिकट

Edited By: Sunil Negi