राज्य ब्यूरो, देहरादून। पूर्व मुख्यमंत्री, पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं हरिद्वार से सांसद रमेश पोखरियाल निशंक की पुत्री कैप्टन श्रेयशी निशंक के विवाह समारोह में जुटे दिग्गजों ने वर-वधू को आशीर्वाद दिया। उत्तराखंड दौरे पर आए भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने सोमवार सुबह मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक समेत अन्य नेताओं के साथ किमाड़ी रोड पर एक रिसार्ट स्थित विवाह समारोह स्थल जाकर पूर्व मुख्यमंत्री निशंक और उनके परिवारजनों को शुभकामनाएं दी। उन्होंने कैप्टन श्रेयशी निशंक और उनके होने वाले पति मेजर देवल वाजपेयी को आशीर्वाद दिया।

राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (सेनि), केंद्रीय पर्यटन राज्य मंत्री अजय भट्ट, पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा व त्रिवेंद्र सिंह रावत, कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज, डा हरक सिंह रावत, डा धन सिंह रावत व स्वामी यतीश्वरानंद, विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल, पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गणेश गोदियाल, नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह, पतंजलि योगपीठ के महामंत्री आचार्य बालकृष्ण, पद्मभूषण डा अनिल प्रकाश जोशी समेत अन्य कई हस्तियों ने शाम को विवाह समारोह में शामिल होकर वर-वधू को आशीर्वाद दिया और उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की। हरिद्वार से पहुंचे संतों ने भी वर-वधू को आशीर्वाद दिया।

कैप्टन श्रेयशी निशंक बतौर चिकित्सक सेना में सेवा दे रही हैं। उनके पति मेजर देवल वाजपेयी भी सेना की मेडिकल कोर में कार्यरत हैं। श्रेयशी ने देहरादून के स्कालर्स होम सीनियर सेकेंडरी स्कूल से 12वीं तक की शिक्षा ग्रहण करने के बाद जौलीग्रांट स्थित हिमालयन इंस्टीट्यूट आफ मेडिकल साइंस से एमबीबीएस किया। फिर अंतरराष्ट्रीय विश्वविद्यालय मारीशस में भी पढ़ाई की। श्रेयशी का पहले से ही सेना में जाकर देश सेवा का सपना था। इसलिए उन्होंने सेना की आर्मी मेडिकल कोर (एएमसी) ज्वाइन की।

मेरी बेटी ने मेरी इच्छा पूरी की

श्रेयशी ने जब सेना ज्वाइन की थी उस समय उनके पिता डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा था कि मुझे गर्व हो रहा है कि हमारे परिवार से मेरी बेटी पहली सैन्य अफसर बनी है। उनकी इच्छा थी कि परिवार से कोई सेना में होना चाहिए। आज मेरी बेटी ने यह इच्छा पूरी कर दी है।

विदेश में अच्‍छी सैलरी का पैकेज ठुकराकर चुनी देश सेवा

विदेश में अच्छी सैलरी पैकेज की चाहत सभी को होती है। लेकिन ऐसे कम कही लोग होते हैं जो इसे ठुकराकर देश सेवा को चुनते हैं। इन्‍हीं में से एक हैं हरिद्वार सांसद रमेश पोखरियाल निशंक की बेटी श्रेयशी निशंक। उन्‍होंने विदेश में लाखों रुपये की सैलरी पैकेज को ठुकराकर भारतीय सेना को चुना। उन्‍होंने वर्ष 2018 में सेना की मेडिकल कोर ज्‍वाइन की।

यह भी पढ़ें:- Igas Celebration: राज्यपाल गुरमीत सिंह बोले, उत्तराखंड के त्योहार और परंपराओं की अलग ही सुंगंध

Edited By: Sunil Negi