Move to Jagran APP

Uttrakhand Politics: 'जेल जाने का डर नहीं...', पत्रकारों से बातचीत में बोले पूर्व कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत

कांग्रेस नेता एवं पूर्व कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि उन्हें जेल जाने का डर नहीं है। जब उन्होंने कुछ गलत किया ही नहीं है तो वह क्यों डरें। रावत ने कहा कि उन्होंने जिंदगीभर सिर पर कफन बांध कर राजनीति की है। बता दें कि रावत व उनसे जुड़े कुछ व्यक्तियों के ठिकानों पर ईडी ने हाल में छापेमारी की थी।

By Vikas gusain Edited By: Shoyeb AhmedMon, 12 Feb 2024 12:00 AM (IST)
पूर्व कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत ने रविवार को पत्रकारों से की बातचीत (फाइल फोटो)

राज्य ब्यूरो, देहरादून। कांग्रेस नेता एवं पूर्व कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत (Harak Singh Rawat) का कहना है कि उन्हें जेल जाने का डर नहीं है। जब उन्होंने कुछ गलत किया ही नहीं है तो वह क्यों डरें। रावत ने कहा कि उन्होंने जिंदगीभर सिर पर कफन बांध कर राजनीति की है।

पूर्व कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत व उनसे जुड़े कुछ व्यक्तियों के ठिकानों पर हाल में ईडी ने छापेमारी की थी। रविवार को कांग्रेस मुख्यालय में पत्रकारों से अनौपचारिक बातचीत में उन्होंने कहा कि वह राम मंदिर आंदोलन में जेल में रहे।

जनता ने दिया आशीर्वाद

गढ़वाल विश्वविद्यालय के आंदोलन में भी जेल गए। अभी भी जेल चले जाएंगे तो क्या है। जब भी वह जेल जाते हैं तो उन्हें फिर से जनता का आशीर्वाद मिल जाता है। उन्होंने कहा कि व्यक्ति को अंदर से कमजोर नहीं होना चाहिए। जब हमने कुछ गलत किया ही नहीं है तो हम अंदर से कमजोर क्यों हो।

रावत ने कहा कि उन्हें उत्तराखंड की जनता ने बहुत कुछ दिया है। मुख्यमंत्री को छोड़कर वह सभी पदों पर आसीन रहे हैं। कोटद्वार से लेकर रुद्रप्रयाग तक की जनता ने आशीर्वाद दिया है। अब राजनीति में उनका वानप्रस्थ है। उन्हें जो मौका मिलेगा, वह जनता की सेवा करेंगे।