जागरण संवाददाता, देहरादून: समूह 'ग' के तहत 13 विभागों में रिक्त 854 पदों पर भर्ती के लिए लिखित परीक्षा आगामी चार और पांच दिसंबर को होगी। परीक्षा तीन पालियों में होगी। परीक्षा में शामिल होने के लिए दो लाख 16 हजार 519 अभ्यर्थियों ने आवेदन किया है।

गुरुवार को उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग ने परीक्षा की तिथि व अभ्यर्थियों की संख्या का विवरण जारी किया। आयोग के सचिव संतोष बडोनी ने बताया कि अभ्यर्थियों की संख्या की दृष्टि से यह राज्य की अब तक की सबसे बड़ी प्रतियोगी परीक्षा होगी। इसके लिए विज्ञप्ति आठ नवंबर 2020 को जारी की गई थी। लेकिन, इस वर्ष अप्रैल-मई में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर के कारण परीक्षा आयोजित करने में करीब एक वर्ष का विलंब हो गया। परीक्षा के लिए केंद्रों के चयन की प्रक्रिया अभी गतिमान है। आयोग जल्द ही वेबसाइट www.sssc.uk.gov.in पर परीक्षा केंद्रों की सूची और अभ्यर्थियों के प्रवेश पत्र अपलोड करेगा।

इन पदों पर होनी है भर्ती

पद, रिक्तियों की संख्या

  • ग्राम विकास अधिकारी, 381
  • ग्राम पंचायत अधिकारी, 292
  • सहायक प्रबंध उद्योग, 70
  • सहायक समाज कल्याण अधिकारी, 35
  • सुपरवाइजर (महिला सशक्तीकरण व बाल विकास विभाग), 34
  • मैट्रनकेयर सह हास्टल इंचार्ज, 16
  • डाटा आपरेटर (सूचना व जनसंपर्क विभाग), नौ
  • सहायक स्वागती (पर्यटन विकास परिषद), छह
  • सहायक चकबंदी अधिकारी, चार
  • छात्रावास अधीक्षक, तीन
  • सहायक समीक्षा अधिकारी (अधीनस्थ सेवा चयन आयोग), दो
  • सहायक समीक्षा अधिकारी (राज्य निर्वाचन आयोग), एक
  • संवीक्षक (सूचना व लोक संपर्क विभाग), एक

यह भी पढ़ें- उत्‍तराखंड के कार्मिकों ने दी 22 नवंबर से बेमियादी हड़ताल की चेतावनी, पढ़ि‍ए पूरी खबर

निदेशालय परिसर में शिक्षामित्रों का धरना शुरू

ननूरखेड़ा शिक्षा निदेशालय परिसर में उत्तराखंड क्रांतिकारी शिक्षामित्र संगठन ने गुरुवार से धरना शुरू कर दिया। संगठन की अध्यक्ष प्रियंका शर्मा ने बताया कि शिक्षामित्र लंबे समय से आंदोलनरत हैं। दुर्गम इलाके में शिक्षामित्र 22 वर्ष से सेवाएं दे रहे हैं, लेकिन सरकार उनकी मांग को गंभीरता से नहीं ले रही है। उन्होंने कहा कि टीईटी पास शिक्षकों को समायोजित किया जाए। जो शिक्षामित्र टीईटी पास नहीं हैं, उन्हें समान कार्य के लिए समान वेतन दिया जाए। इस अवसर पर मोहन सिंह, जयवीर रावत, शिशुपाल, चित्रा राणा, लक्ष्मी, सुनीता आदि मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें- ऋषिकेश स्थित यात्रा कार्यालय को देहरादून शिफ्ट किए जाने का विरोध

Edited By: Sumit Kumar