देहरादून, जेएनएन। दून घाटी रंगमंच की ओर से नगर निगम सभागार में आयोजित 17वें भारत संस्कृति नाट्य महोत्सव के अंतिम दिन रविवार को दो नाटकों का मंचन किया गया। इस दौरान दून के कलाकारों ने नागमंडल नाटक के शानदार प्रदर्शन से दर्शकों को अंत तक बांधे रखा। नाटक के माध्यम से कलाकारों ने नारी सशक्तिकरण  का संदेश दिया। इस मौके पर दूनघाटी रंगमंच की ओर से नाट्य क्षेत्र में विशिष्टï योगदान के लिए फिल्म संगीत निर्देशक मदन मोहन को नाट्य रत्न पुरस्कार और दून मेडिकल कॉलेज के डॉ. जैनेंद्र कुमार को दूनकीर्ति सम्मान से सम्मानित किया गया।

चार दिवसीय महापर्व में 15 राज्यों के चार सौ कलाकारों ने सुंदर नाटकों के मंचन से खूब तालियां बटोरी। नाटक के सभी विजेताओं को सम्मानित किया गया। इस मौके पर कांग्रेस कमेटी के प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने बतौर मुख्य अतिथि शिरकत की। उन्होंने कहा कि भारतीय संस्कृति विश्व में अनूठी है। विभिन्न जाति, धर्म, वेशभूषा व बोलियों वाले हमारे देश की विश्व में अलग पहचान है।

सरस्वती वंदना के साथ शुरू हुए सांस्कृतिक कार्यक्रम में रंगमंच की सह संध्या एकलव्य संस्कृति समिति के कलाकारों ने 'नागमंडल' नाटक का मंचन कर नारी सशक्तिकरण का संदेश दिया। वहीं 'बाकी इतिहास' नाटक का मंचन कर कलाकारों ने यौन शोषण में मनुष्य की विकृत मानसिक स्थिति को दर्शाया। इस अवसर पर रंगमंच के अध्यक्ष नाट्य भूषण लक्ष्मी नारायण, मीडिया प्रभारी अनिल वर्मा, अतुल राठौर, सेवा सिंह मठारू, पद्मजा सावंत, नीलू सहगल, महेश नारायण, तेज सिंह राठौर आदि मौजूद रहे।

ये रहे प्रस्तुति में अव्वल

लोकनृत्य और नाटकों में बेहतर प्रदर्शन करने वाले विजेता कलाकारों को सम्मानित किया गया। 

नृत्य प्रतियोगिता में जूनियर एकल नृत्य में मोहंती ने प्रथम स्थान हासिल किया। जबकि आस्तिक खान ने दूसरा और अदायशा ने तीसरा स्थान प्राप्त किया। सीनियर एकल वर्ग में निशा तडऩी ने पहला, नेहा पंवार ने दूसरा और अभिजीत नेहरा ने तीसरा स्थान हासिल किया। युगल नृत्य में श्रुति पटेल व कृष्णा एजूकेशन के कलाकारों ने पहला स्थान, थियेटर मूवमेंट के कलाकार दूसरे और संबलपुर कला केंद्र के कलाकारों ने तीसरा स्थान प्राप्त किया। 

यह भी पढ़ें: बॉलीवुड एक्टर विवेक ओबरॉय टीम के साथ पहुंचे परमार्थ निकेतन

यह भी पढ़ें: कांस फिल्म फेस्टिवल में दिखी उत्तराखंड की वादियां, पढ़िए पूरी खबर

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस