जागरण संवाददाता, देहरादून : ओएलएक्स पर बेड बेच रही एक महिला को साइबर ठगों ने करीब सवा लाख का चूना लगा दिया। आरोपितों ने रकम ट्रांसफर करने का झांसा देकर क्यूआर कोड भेजा और स्कैन करने पर खाते से एक लाख, 31 हजार रुपये उड़ा लिए। महिला की शिकायत पर नेहरू कालोनी थाना पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है।

पुलिस के मुताबिक, सारथी विहार निवासी ज्‍योति सेठी ने ठगी की शिकायत दर्ज कराई है। बताया कि उन्होंने अपने फोन में ओएलएक्स एप डाउनलोड कर एक बेड बेचने के लिए विज्ञापन डाला। कुछ देर बाद उन्हें एक अज्ञात नंबर से काल आया। जिसने उन्हें कहा कि वह उनका बेड खरीदना चाहता है। सौदा तय होने पर आरोपित ने महिला को वाट्सएप पर एक क्यूआर कोड भेजा। कहा कि वह इसे स्कैन करेंगी तो उनके खाते में तय की गई रकम ट्रांसफर हो जाएगी।

आरोपित के झांसे में आकर महिला ने कोड को स्कैन कर दिया। तभी कुल पांच बार महिला के बैंक खाते से पैसे निकाल लिए गए। साथ ही आरोपित ने महिला का पेटीएम भी हैक कर लिया। इसके बाद आरोपित का नंबर स्विच आफ हो गया। पुलिस ने आइटी एक्ट में मुकदमा दर्ज कर आरोपित की तलाश शुरू कर दी है।

गोदाम से कर्मचारियों ने साफ की मक्खन की पेटियां

दुकान के कर्मचारियों पर मालिक ने गोदाम से मक्खन की पेटियां चुराने का आरोप लगाया है। नगर कोतवाली पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर तीनों आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस के मुताबिक, पंकज रेखी ने बताया कि वह अमूल प्रोडक्ट की एजेंसी चलाते हैं। उनकी दुकान व गोदाम कमल मार्केट में है। जहां सुमित सकलानी व मोहित काम करते हैं। सोमवार रात दुकान व गोदाम बंद कर वे घर चले गए। पड़ोस के दुकानदार का फोन आया कि उनके गोदाम से सामान निकाला जा रहा है। वह गोदाम पर पहुंचे और देखा कि सुमित, मोहित व एक अन्य व्यक्ति अमूल मक्खन की पेटियां चोरी कर ले जा रहे थे। बुधवार देर शाम तीनों को गिरफ्तार कर लिया। उनसे छह पेटी अमूल बटर और घटना में प्रयोग की गई स्कूटी बरामद की गई।

यह भी पढ़ें: देहरादून: संग्रह अमीन ने भूसा स्टोर के मालिक से हड़पे 4.40 करोड़, पत्नी, दो बेटियों और एक रिश्तेदार पर मुकदमा

Edited By: Sunil Negi