देहरादून, जेएनएन। coronavirus के खिलाफ लड़ी जा रही इस जंग में आपके किचन में मौजूद कई चीजें फायदेमंद साबित होंगी। बस जरूरत है आपको उनके बारे में जानने की। काली मिर्च, तुलसी, अदरक, हल्दी, लौंग और इलायची हर किसी के घर में मौजूद रहती हैं। इनका गुनगुना काढ़ा कोरोना वायरस के संक्रमण से लड़ने की ताकत देता है। इसके साथ ही गर्म पानी में नींबू डालकर पीने से विटामिन सी की कमी भी पूरी होती है, जिससे आपका इम्यून सिस्टम मजबूत होता है।   

हमने कहीं-न-कहीं प्राकृतिक संसाधनों का अनुचित दोहन किया है, जिसकी परिणति कोरोना संक्रमण के रूप में हो रही है। आचार्य सुश्रुत ने भी इस प्रकार के संक्रमणों से बचाव के लिए संभावित रोगी से दूरी बनाए रखने की सलाह दी है। आज की परिस्थितियों में किया गया लॉकडाउन भी आचार्य सुश्रुत के सुझाए उपक्रम का ही हिस्सा है। जिसका हमें स्वयं के साथ ही परिवार, समाज, राज्य और देशहित में पालन करना चाहिए। आइये! वरिष्ठ आयुर्वेद चिकित्सक डॉ. नवीन जोशी से जानते हैं कि ऐसी परिस्थितियों में कौन से प्राकृतिक साधनों को अपनाकर हम संक्रमण से बच सकते हैं।

अदरक, काली मिर्च, तुलसी का काढ़ा फायदेमंद

काली मिर्च, तुलसी, अदरक, हल्दी, लौंग और इलायची का गुनगुना काढ़ा 15 से 20 एमएल लेने से गले में कफ का अवरोध रुकता है। गाय का हल्दी मिश्रित गुनगुना दूध भी शरीर को संक्रमणों से लड़ने की ताकत देता है। तुलसी के अर्क की दो बूंद की भाप लेना भी बंद नाक खोलने सहित श्वास-प्रश्वास क्रिया को सुचारु रखने में मददगार है।

नीम, गिलोय और तुलसी लाभकारी

नीम की तीन पत्तियां, तुलसी के तीन पत्र और गिलोय की एक गांठ को अच्छी तरह साफ कर इनका स्वरस लेना भी वायरल संक्रमणों से बचाव में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। आंवले के मुरब्बे या च्यवनप्राश के नियमित सेवन से भी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है।

संक्रमण से बचाव के लिए नियमित रूप से गर्म पानी का सेवन करें

आयुर्वेद में संक्रमण की स्थिति या संक्रमण से बचाव, दोनों ही परिस्थितियों में गर्म पानी पीने को उपयुक्त माना गया है। किसी भी प्रकार के वायरल संक्रमण होने पर गुनगुना पानी पीने से लक्षणों में लाभ देखा गया है। सो, इस समय आप आवश्यकता के अनुरूप गर्म पानी पिएं। सुबह गर्म पानी में एक कागजी नींबू निचोड़कर पीना भी शरीर में प्राकृतिक रूप से विटामिन-सी की पूर्ति करता है। इससे रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ जाती है। गर्म पानी से मेटाबोलिज्म भी दुरुस्त रहता है, जो रक्त संचरण को बढ़ाता है। इससे मांसपेशियों को पोषण, फेफड़ों की कोशिकाओं को गतिशीलता मिलती है और इनमें जमा म्यूकस आसानी से बाहर आ जाता है।

यह भी पढ़ें: coronavirus को हराना है तो बढ़ाएं इम्युनिटी, आपके किचन में ही मौजूद हैं कई राज, जानिए उनके बारे में 

तनावमुक्त और पॉजिटिव रहें

तनावमुक्त रहते हुए घर पर नियमित योगाभ्यास हमें मानसिक रूप से स्वस्थ रखता है। इससे रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है और संक्रमण की संभावना न्यून हो जाती है। लॉकडाउन की स्थिति में हम शारीरिक और मानसिक रूप से स्वयं को सक्रिय रखते हुए घर पर ही जॉगिंग कर सकते हैं। यह हमारे फेफड़ों सहित हृदय के स्वास्थ्य को भी ठीक रखता है। परिवार के साथ हल्के-फुल्केइंडोर खेल और हास-परिहास भीतर अनावश्यक भय को दूर कर हमें सकारात्मक रखता है।

यह भी पढ़ें: coronavirus से बचाव को लें आयुर्वेद की मदद, इन चीजों का करें सेवन और इनसे बचें

Posted By: Raksha Panthari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस