देहरादून, जेएनएन। देहरादून जिला अस्पताल कोरोनेशन में एक दुर्लभ ट्यूमर का सफलतापूर्वक ऑपरेशन कर डॉक्टरों की टीम ने मरीज को नया जीवन दिया है। युवती के पेट से निकला ये ट्यूमर तीन किलो से ज्यादा का था। 

कोरोनेशन अस्पताल के सर्जन डॉ. आरके टम्टा ने बताया कि पौड़ी निवासी एक युवती पेट दर्द और लगातार पेट का आकार बढ़ने की शिकायत लेकर इलाज के लिए आई। युवती ने बताया कि वह पिछले तीन माह से इस समस्या से पीड़ित है। युवती की प्रारंभिक जांच के बाद उसका अल्ट्रासाउंड कराया गया, जिसके बाद ज्ञात हुआ कि युवती के पेट में रसौली है। इसके बाद युवती का सीटी स्कैन कराया गया। जांच में पता चला कि युवती को एक दुर्लभ प्रकार का ट्यूमर है। 

साढ़े तीन किलो का ट्यूमर निकाला 

डाक्टरों की टीम ने जांच में पाया कि युवती के पेट में ट्यूमर काफी बड़ा हो चुका था। मरीज की अन्य जांचे कराने के बाद सफलतापूर्वक ऑपरेशन किया गया। ऑपरेशन में साढ़े तीन किलो से अधिक का ट्यूमर पेट से निकाला गया, जिसके बाद से मरीज बिल्कुल स्वस्थ है। मरीज को जल्द ही अस्पताल से छुट्टी दे दी जाएगी। इस ऑपरेशन में कोरोनेशन अस्पताल के सर्जन डॉ. आरके टम्टा की अगुवाई में एनेथेस्टिक डॉ. संजीव कटारिया के साथ सिस्टर गीता, पूजा, रोजी मौजूद रहीं। जिला अस्पताल के नवनियुक्त चिकित्सा अधीक्षक डॉ. बीसी रमोला ने टीम को बधाई दी है। 

यह भी पढ़ें: अब घुटना प्रत्यारोपण को नहीं करना पड़ेगा निजी अस्पतालों का रुख, सरकारी अस्पताल में भी है ये सुविधा

शरीर की असामान्य आकार वृद्धि खतरनाक 

सर्जन डॉ. आरके टम्टा ने बताया कि यह ट्यूमर मरीज के बाएं अंडाशय से उत्पन्न हो रहा था। ट्यूमर मरीज के आसपास के अंगों और आंतों से चिपका हुआ था। इसके साथ ही ट्यूमर किडनी के ऊपर दबाव डाल रहा था। उन्होंने बताया कि शरीर के किसी भी हिस्से में असामान्य आकार वृद्धि को नजरअंदाज ना करें चिकित्सक से तुरंत संपर्क करें। 

यह भी पढ़ें: श्री महंत इंदिरेश अस्पताल में स्वाइन फ्लू की जांच रिपोर्ट छह घंटे में Dehradun News

Posted By: Raksha Panthari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस