राज्य ब्यूरो, देहरादून। CM Vatsalya Yojna मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना के तहत महिला प्रौद्योगिकी संस्थान, देहरादून की तीन छात्राओं को चेक प्रदान किए। इस दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड काल में जिन बच्चों ने अपने अभिभावकों को खोया, उनकी कमी पूरी नहीं की जा सकती। सरकार का प्रयास है कि इन बच्चों की जो भी मदद हो सकती है, वह राज्य सरकार करे।

बुधवार को मुख्यमंत्री आवास में मुख्यमंत्री ने महिला प्रौद्योगिकी संस्थान की कंप्यूटर साइंस एवं इजीनियरिंग की तृतीय वर्ष की छात्रा गरिमा शर्मा को 1.70 लाख, इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग की चतुर्थ वर्ष की छात्रा अलविना खानम को 56 हजार और शिप्रा नेगी को 27.5 हजार रुपये का चेक सौंपा। मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना के अंतर्गत महिला प्रौद्योगिकी संस्थान ने भी इन छात्राओं का एक मार्च 2020 से मार्च 2022 की अवधि का शुल्क वापस कर दिया है। भविष्य में भी संस्थान इन छात्राओं से कोई शुल्क नहीं लेगा। इस अवसर पर अपर मुख्य सचिव राधा रतूड़ी, निदेशक महिला प्रौद्योगिकी संस्थान प्रो आरपीएस गंगवार भी मौजूद थे।

यह भी पढ़ें- उत्तराखंड: धामी सरकार ने राशन विक्रेताओं को दी राहत, अब 50 रुपये हुआ लाभांश

चार दिसंबर से हरिद्वार में होगी तीन दिवसीय बैठक

भारत- तिब्बत समन्वय संघ की विभिन्न मुद्दों को लेकर चार दिसंबर से तीन दिवसीय बैठक हरिद्वार में होगी। बुधवार को प्रेस क्लब में आयोजित पत्रकारवार्ता में भारत-तिब्बत समन्वय संघ के अध्यक्ष प्रो. प्रयाग दत्त जुयाल ने कहा कि बैठक में कैलाश मानसरोवर की मुक्ति, तिब्बत की आजादी, भारत की सीमाओं की सुरक्षा आदि विषयों पर चर्चा होगी। बैठक में देश भर के संघर्षशील, बुद्धिजीवी, रिटायर्ड आइएएस अधिकारी शामिल होंगे। इस मौके पर डा. वंदना स्वामी, नरेन्द्र चौैहान, विजय कौल, मोहनदत्त भट्टï आदि मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें- MBBS के शुल्क का बांड नहीं भरने वाले छात्रों को भी मिलेगा कम शुल्क का लाभ, इसी सत्र से होगी शुरुआत

Edited By: Raksha Panthri