देहरादून, जेएनएन। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि हमारी सरकार ने आज 3.5 साल पूरे कर लिए हैं। सुशासन और जीरो टालरेंस आन करप्शन सरकार की प्राथमिकता में है और हमने लोगों से 80-85 फीसद वादे पूरे किए हैं। 

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि ई-कैबिनेट, ई-आफिस, सीएम डैश बोर्ड उत्कर्ष, सीएम हेल्पलाईन 1905, सेवा का अधिकार और ट्रांसफर एक्ट की पारदर्शी व्यवस्था के चलते कार्यसंस्कृति में गुणात्मक सुधार हुआ है। भ्रष्टाचार पर जीरो टालरेंस सरकार की प्रमुख नीति है। इन्वेस्टर्स समिट के बाद पहले चरण में 25 हजार करोड़ रूपए से अधिक के निवेश की ग्राउंडिंग हो चुकी है। अगले डेढ़ वर्ष में इसे 40 हजार करोड़ तक करने का लक्ष्य रखा गया है।

वन्यजीवों से फसलों की सुरक्षा के लिए व्यापक कार्ययोजना

कहा, राज्य सरकार वन्यजीवों से फसलों की सुरक्षा के लिए व्यापक कार्ययोजना पर काम कर रही है। इसमें चार वानर रेस्क्यू सेंटरों की स्थापना, 125 किमी जंगली सूअर रोधी दीवार, 50 किमी सोलर फेंसिंग, 13 किमी हाथी रोधी दीवार, 250 किमी हाथी रोधी खाइयों का निर्माण शामिल है। महिला पौधालयों की स्थापना पर भी काम किया जा रहा है, जिसमें कि लगभग 20 हजार महिलाओं को रोजगार सम्भावित है। एक वैश्विक स्तर का साईंस कालेज और प्रदेश के 5 हजार स्कूलों में हिमालय इको क्लबों की स्थापना की कार्ययोजना भी बनाई गई है।

नए पर्यटन केद्रो का विकास

13 डिस्ट्रिक्ट-13 न्यू डेस्टीनेशन से नए पर्यटन केंद्रों का विकास हो रहा है। होम स्टे योजना से ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूती मिल रही है। विभिन्न रोपवे प्रोजेक्ट पर काम किया जा रहा है। जलसंरक्षण और जलसंवर्धन पर काफी काम किया गया है। प्रदेश की नदियों, झीलों, तालाबों और जल स्रोतों को पुनर्जीवित करने के लिए व्यापक जनअभियान शुरू किया गया है।

यह भी पढ़ें: उत्‍तराखंड : एक दिन का हो सकता है विधानसभा का मानसून सत्र

मुख्यमंत्री आज पिथौरागढ़ के दौरे पर

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत शुक्रवार को पिथौरागढ़ में आपदा प्रभावितों के लिए स्थापित राहत शिविरों का निरीक्षण कर प्रभावितों से मुलाकात करेंगे। मुख्यमंत्री शुक्रवार दोपहर पिथौरागढ़ पहुंचेंगे। आपदा राहत शिविरों के निरीक्षण के उपरांत वह नवनिर्मित कार पार्किंग एवं नर्सिंग कॉलेज का निरीक्षण करेंगे। शाम को मुख्यमंत्री विभिन्न विकास योजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण करेंगे। इसके बाद वह विभागीय अधिकारियों के साथ जिला समीक्षा बैठक व कार्यकर्त्‍ताओं के साथ बैठक में हिस्सा लेंगे। रात्रि विश्राम पिथौरागढ़ में करने के बाद मुख्यमंत्री शनिवार को देहरादून लौटेंगे।

यह भी पढ़ें: हरीश रावत बैठे मौन व्रत पर, केंद्र सरकार के तीन विधेयकों को किसानों के खिलाफ बताया साजिश

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस