जागरण संवाददाता, देहरादून। Chardham Devasthanam Board चारधाम देवस्थानम प्रबंधन बोर्ड को भंग करने की मांग को लेकर तीर्थ पुरोहितों ने कैबिनेट मंत्रियों के यमुना कालोनी स्थित आवास का घेराव किया। इस दौरान उन्होंने मांग पर मिल रहे आश्वासन पर नाराजगी जताई। कहा कि सरकार कार्रवाई करने के बजाय सिर्फ आश्वासन देकर उन्हें गुमराह कर रही है। इस बीच तीर्थ पुरोहितों की कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल से नोकझोंक भी हुई। बाद में कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल व बिशन सिंह चुफाल ने उन्हें किसी तरह समझाया और 30 नवंबर तक इस मसले का समाधान निकालने की बात कही, तब जाकर तीर्थ पुरोहित शांत हुए।

मंगलवार को तीर्थ पुरोहित हक हकूकधारी महापंचायत से जुड़े तीर्थ पुरोहित महासभा व पंचायत व मंदिर समितियों के पदाधिकारी यमुना कालोनी स्थित कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल के आवास के बाहर एकत्रित हुए। यहां उन्होंने देवस्थानम बोर्ड को भंग करने की मांग करते हुए नारेबाजी की और वहीं धरने पर बैठ गए। इस दौरान कैबिनेट मंत्री ने उन्हें आश्वस्त किया कि उनकी मांगों पर सकारात्मक विचार किया जाएगा। इसके बाद तीर्थ पुरोहित कैबिनेट मंत्री बिशन सिंह चुफाल के आवास के बाहर पहुंचे व प्रदर्शन किया। यहां भी मंत्री चुफाल ने उन्हें मांग पर सकारात्मक कार्रवाई का भरोसा दिलाया।

महापंचायत के संयोजक सुरेश सेमवाल ने कहा कि तीर्थ पुरोहितों ने पूर्व में धरना दिया था। तब सरकार ने भरोसा दिलाया कि 30 तक उनकी मांग पूरी कर दी जाएगी। जिसका सभी इंतजार कर रहे हैं। महापंचायत के प्रवक्ता डा. बृजेश सती ने बताया कि 27 नवंबर को काला दिवस मनाते हुए गांधी पार्क से सचिवालय तक आक्रोश रैली निकालेंगे। प्रदर्शन करने वालों में यमुनोत्री तीर्थ पुरोहित महासभा के अध्यक्ष पुरुषोत्तम उनियाल, ब्रह्म कपाल तीर्थ पुरोहित पंचायत समिति बदरीनाथ धाम के अध्यक्ष उमेश सती, गंगोत्री मंदिर समिति के सह सचिव निखिलेश सेमवाल, आचार्य संतोष त्रिवेदी, संजय तिवारी, चंडी प्रसाद तिवारी आदि रहे।

कांग्रेस ने तीर्थ पुरोहितों को दिया समर्थन

कांग्रेस ने भी तीर्थ पुरोहितों की मांगों को जायज ठहराया है। मंगलवार को नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह तीर्थ पुराहितों को समर्थन देने यमुना कालोनी पहुंचे। उन्होंने कहा कि सरकार देवस्थानम प्रबंधन बोर्ड को वापस ले, यदि ऐसा नहीं होगा तो कांग्रेस के सत्ता में आते ही एक्ट को खत्म किया जाएगा। वहीं कांग्रेस के महानगर अध्यक्ष लालचंद शर्मा ने कहा कि पार्टी तीर्थ पुरोहितों के साथ है और उनकी मांग को लेकर आंदोलन करती रहेगी। लैंसडौन विधायक दिलीप रावत ने भी तीर्थ पुराहितों की मांग के साथ खड़े रहने का समर्थन दिया।

यह भी पढ़ें- तीर्थ पुरोहितों और हक-हकूकधारियों को साधने में जुटी सरकार, देवस्थानम बोर्ड पर ले सकती है बड़ा निर्णय

Edited By: Raksha Panthri