टीम जागरण, देहरादून : Ankita Murder Case: अंकिता हत्‍याकांड में बड़ी अपडेट सामने आई है। चीला बैराज से एक मोबाइल बरामद किया गया है। माना जा रहा है कि यह मोबाइल अंकिता का मोबाइल हो सकता है। हालांकि अभी इस बात की पुष्‍टि नहीं हुई है।

मोबाइल को फॉरेंसिक जांच के लिए भेजा गया है। वहीं यह मोबाइल आरोपितों को दिखाया जाएगा ताकी पता चले कि यह मोबाइल अंकिता का है या नहीं। वहीं पुलकित का मोबाइल भी नहर में फेंके जाने की बात कही गई थी तो यह मोबाइल पुलकित का भी हो सकता है।

तीनों आरोपितों को तीन दिन की रिमांड पर लिया

वहीं एसआइटी ने गुरुवार रात को तीनों आरोपितों को तीन दिन की रिमांड पर ले लिया है। अंकिता के तीनों हत्यारोपियों को शुक्रवार को पौड़ी जेल से पूछताछ के लिए लाया जाएगा। एसआइटी ने आरोपियों को घटनास्थल भी लेकर जाएगी। 

यह भी पढ़ें : Ankita Murder Case : एक्‍स्‍ट्रा सर्विस की डिमांड...मना करने पर हत्‍या और अब पोस्‍टमार्टम पर सवाल.... केस से जुड़ी 10 बड़ी बातें

बता दें कि विगत 18 सितंबर को लापता हुई थी। जिसके बाद अंकिता का शव 24 सितंबर को चीला बैराज के पास मिला था। 23 सितंबर को पुलिस ने मामले पर हत्या का मुकदमा दर्ज किया था। जिसके बाद भाजपा नेता विनोद आर्य के बेटे और रिसॉर्ट के मालिक पुलकित आर्या, उसके रिजॉर्ट के दो मैनेजर सौरभ और अंकित को गिरफ्तार किया गया था।

यह भी पढ़ें : Ankita Murder Case : पिता की मजदूरी छूटी, मां करने लगी आंगनबाड़ी में काम... बेटी ने नौकरी की तो गंवाई जान 

अंकिता के स्वजन को सौंपी पोस्टमार्टम रिपोर्ट, दर्ज किए बयान

एसआइटी ने पोस्टमार्टम रिपोर्ट की कापी अंकिता के स्वजन को सौंप दी है। साथ ही एसआइटी ने अंकिता के माता-पिता तथा भाई के बयान भी दर्ज किए हैं। 25 सितंबर को श्रीनगर में अंकिता का अंतिम संस्कार किया गया था। पूर्व में अंकिता की पोस्टमार्टम रिपोर्ट को सार्वजनिक करने को लेकर खूब हंगामा हुआ था। यहां तक की ग्रामीणों ने श्रीनगर मेडिकल कालेज में फिर से पोस्टमार्टम कराने की मांग भी की थी।

हालांकि, 25 सितंबर को ही एसआइटी के सह प्रभारी अपर पुलिस अधीक्षक शेखर सुयाल ने अंकिता के घर श्रीकोट पौड़ी गढ़वाल पहुंचकर स्वजन को पोस्टमार्टम रिपोर्ट पढ़कर सुनाई थी। इसके बावजूद भी पोस्टमार्टम रिपोर्ट को लेकर लगातार सवाल खड़े किए जा रहे थे।

शुक्रवार को शेखर सुयाल फिर से अंकिता के घर पहुंचे। उन्होंने अंकिता के पिता वीरेंद्र सिंह भंडारी, मां सोनी देवी तथा भाई अजय भंडारी से मुलाकात की। उन्होंने अंकिता की पोस्टमार्टम रिपोर्ट की कापी भी उन्हें सौंपी।

Edited By: Nirmala Bohra

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट