जागरण संवाददाता, देहरादून : आम आदमी पार्टी (आप) के सैकड़ों  कार्यकर्त्‍ताओं ने भाजपा सरकार के चार सालों की विफलता पर जवाब मांगने के लिए मुख्यमंत्री आवास कूच किया। पुलिस ने आप कार्यकत्र्ताओं को हाथीबड़कला में बेरिकेडिंग पर रोक दिया। इस पर आप  कार्यकर्त्‍ताओं व पुलिस के बीच धक्का-मुक्की हुई। प्रदेश प्रभारी समेत अन्य  कार्यकर्त्‍ताओं को पुलिस ने गिरफ्तार किया। हालांकि कुछ देर बाद निजी मुचलकों पर छोड़ दिया। पुलिस और  कार्यकर्त्‍ताओं के बीच धक्का- मुक्की में आप प्रदेश अध्यक्ष एसएस कलेर की हालत बिगड़ गई। जहां से उन्हें अस्पताल ले जाया गया।

आम आदमी पार्टी ने प्रदेश की भाजपा सरकार के विफलताओं भरे चार साल के विरोध में प्रदेश भर की सभी 70 विधानसभाओं में काला दिवस मनाते हुए सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। इसी क्रम में प्रदेश प्रभारी दिनेश मोहनिया और आप प्रदेश अध्यक्ष एसएस कलेर के नेतृत्व में कार्यकत्र्ता मुख्यमंत्री आवास की ओर जाने लगे। जिन्हें पुलिस ने हाथीबड़कला में रोक लिया। इस दौरान  कार्यकर्त्‍ताओं और पुलिस के बीच धक्का मुक्की का माहौल बन गया। आगे बढ़ते हुए कई   कार्यकर्त्‍ता बेरिकेडिंग पर जबरन चढ़ गए। जिन्हें पुलिस ने बलपूर्वक पीछे धकेल दिया। गुस्साएं कार्यकत्र्ता नारेबाजी करते हुए वहीं बैठ गए। जिसके बाद पुलिस ने जबरन आप प्रभारी समेत कई कार्यकत्र्र्ताओं को गिरफ्तार कर पुलिस लाइन ले गई। इस दौरान आप प्रदेश प्रभारी दिनेश मोहनिया ने कहा कि आप पार्टी और जनता को सरकार से इन चार सालों का जवाब चाहिए और अगर जवाब नहीं मिलता तो आप कार्यकत्र्ता समस्त भाजपा नेताओं व विधायकों के घर घर जाकर बीते चार सालों का जवाब मांगेंगे।

यह भी पढ़ें-पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने सीएम तीरथ को बताया चालाक

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

Edited By: Sunil Negi