जागरण संवाददाता, ऋषिकेश:

युवा पहलवान लाभांशु शर्मा ने हरिद्वार में आयोजित नेशनल यूथ गेम्स में स्वर्ण पदक जीता है। इसके साथ ही लाभांशु का चयन नेशनल कोचिंग कैंप के लिए भी हुआ है। लाभांशु को वर्ष 2015 में राष्ट्रपति के हाथों राष्ट्रीय वीरता पुरस्कार भी मिल चुका है।

हरिद्वार में सात से नौ अक्टूबर तक द्वितीय ऑल इंडिया नेशनल यूथ गेम्स का आयोजन किया गया था। ऋषिकेश के चंद्रेश्वर नगर निवासी लाभांशु शर्मा ने इस प्रतियोगिता में कुश्ती के खेल में मध्य प्रदेश, राजस्थान, महाराष्ट्र व उत्तर प्रदेश के पहलवानों को शिकस्त देकर (6-2) से मुकाबला जीतकर स्वर्ण पदक पर कब्जा जमाया। इस कामयाबी के साथ ही लाभांशु ने ऑल इंडिया नेशनल गेम्स यूथ द्वारा अगले माह लगाए जाने वाले कोचिंग कैंप के लिए भी क्वालीफाइ कर लिया है। इस कोचिंग कैंप में नेशनल गेम्स में प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले खिलाड़ियों को चुना जाता है। प्रशिक्षण के उपरांत इन तीनों में एक और प्रतियोगिता कराई जाती है, जिसमें प्रथम स्थान प्राप्त करने वाला प्रतिभागी दिसंबर माह में थाइलैंड में होने वाली एशियन रेसलिंग चैंपियनशिप में भारत का प्रतिनिधित्व करेगा। लाभांशु ने हाल ही में पांच अक्टूबर को राज्य स्तरीय कुश्ती प्रतियोगिता में लगातार सातवीं बार स्वर्ण पदक जीता था। युवाओं में बढ़ रही नशे की प्रवृति के खिलाफ अभियान चला रहे लाभांशु 23 अक्टूबर को मलेशिया में आयोजित होने जा रहे इंटरनेशनल यूथ कांफ्रेंस में अपना उद्बोधन देने जा रहे हैं।