गोपेश्वर (चमोली), जेएनएन। चारधाम यात्रा शुरू होने के बाद धीरे-धीरे प्रदेशभर से चारों धाम पहुंचने वाले यात्रियों की संख्या में बढ़ोत्तरी होने लगी है। शुक्रवार को कुल 307 यात्रियों ने चारों धाम में दर्शन किए। इनमें से 175 यात्री बदरीनाथ, 69 केदारनाथ, 50 गंगोत्री और 13 यमुनोत्री धाम पहुंचे। इसके अलावा 98 यात्री सोनप्रयाग से केदारनाथ के लिए रवाना हुए।

बदरीनाथ धाम में दिनभर मौसम साफ रहने से शुक्रवार को देहरादून, टिहरी, रुद्रप्रयाग आदि जिलों से 75 और चमोली जिले से सौ यात्री दर्शनों को पहुंचे। दर्शन करने के बाद कुछ यात्री सीधे अपने घरों को रवाना हो गए, जबकि कुछ जोशीमठ, पीपलकोटी आदि पड़ावों पर रुके हुए हैं। बदरीनाथ धाम के धर्माधिकारी भुवन चंद्र उनियाल ने बताया कि कम भीड़ होने के कारण यात्रियों को आसानी से भगवान बदरी विशाल के दर्शन हो जा रहे हैं।

सोनप्रयाग से केदारनाथ रवाना हुए 98 यात्री

रुद्रप्रयाग: केदारनाथ धाम में शुक्रवार को 69 यात्रियों ने बाबा के दर्शन किए। जबकि, सुबह सात से दोपहर एक बजे तक 121 लोग सोनप्रयाग से केदारनाथ के लिए रवाना हुए। सोनप्रयाग में यात्रा ड्यूटी पर तैनात कानूनगो एमएल अंजवाल ने बताया कि केदारनाथ रवाना होने वालों में तीन तीर्थ पुरोहित, 98 दर्शनार्थी, एक भवन स्वामी और 19 श्रमिक शामिल हैं। बताया कि हरिद्वार, नैनीताल, पौड़ी, टिहरी आदि जिलों से काफी यात्री बाबा के दर्शनों को पहुंच रहे हैं।

गंगोत्री दर्शनों को पहुंचे 50 यात्री

उत्तरकाशी: धीरे-धीरे गंगोत्री-यमुनोत्री धाम में भी यात्रियों की आमद होने लगी है। शुक्रवार को 50 यात्रियों ने गंगोत्री धाम में दर्शन किए, जबकि बुधवार को यह संख्या मात्र दस थी। अच्छी बात यह कि पहली बार यमुनोत्री धाम में भी 13 यात्रियों ने देवी यमुना के दर्शन किए। सभी यात्री निजी वाहनों से ही गंगोत्री और जानकीचट्टी पहुंचे। यमुनोत्री के लिए जानकीचट्टी से पांच किमी की दूरी पैदल तय करनी पड़ती है।

यह भी पढ़ें: Chardham Yatra 2020: नहीं मिले गंगोत्री और केदारनाथ धाम के यात्री, बसें निरस्त

ई-पास के लिए 541 ने किया आवेदन

चारधाम देवस्थानम प्रबंधन बोर्ड की वेबसाइट www.badrinath-kedarnath.gov.in पर शुक्रवार को 541 लोगों ने ई-पास के लिए आवेदन किया। इसमें बदरीनाथ के लिए लिए 237, केदारनाथ के लिए 221, गंगोत्री के लिए 44 और यमुनोत्री के लिए 39 आवेदन शामिल हैं। बोर्ड के अपर मुख्य कार्यकारी अधिकारी बीडी सिंह ने बताया कि बोर्ड की ओर से एक से तीन जुलाई तक 1563 ई-पास जारी किए जा चुके हैं। पोर्टल प्रभारी संजय चमोली ने बताया कि ई-पास के लिए श्रद्धालु लगातार संपर्क कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें: Chardham Yatra: चारधाम यात्रा शुरू, 140 यात्रियों ने किए बदरी-केदार में दर्शन

Posted By: Sunil Negi

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस