संवाद सहयोगी, गोपेश्वर : देश-विदेश में प्रतिभा का लोहा मनवाने वाली भरतनाट्यम नृत्यांगना नेहा भटनागर ने चमोली के दूर दराज के विद्यालयों में छात्र छात्राओं को इस कला से रूबरू कराया। इस दौरान जगह जगह छात्र छात्राओं को भरतनाट्यम नृत्य की बारीकियां सिखाई गई। छात्र छात्राओं को भारतीय शास्त्रीय नृत्य की ओर आकर्षित करने के लिए इस कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

स्पिक मैके संस्था की ओर से शिक्षा विभाग की मदद से चमोली जिले के छात्र छात्राओं को नृत्यांगना नेहा भटनागर ने निश्शुल्क भरतनाट्यम का प्रशिक्षण दिया। चमोली जिले के राजकीय बालिका इंटर कॉलेज गोपेश्वर, राजकीय जूनियर हाईस्कूल गाड़ी, जूनियर हाईस्कूल सूया, सरस्वती शिशु मंदिर गोपेश्वर, सरस्वती विद्या मंदिर गोपेश्वर, राउमावि गाड़ी, राइंका माणा ¨घघराण में कार्यशाला का आयोजन कर छात्र छात्राओं को भरतनाट्यम की बारीकियों से रूबरू कराया गया। कार्यशाला में कार्यक्रम के नोडल अधिकारी विनोद चंद्र ने कहा कि आज युवा वर्ग पर पाश्चात्य संस्कृति हावी हो रही है। इस प्रशिक्षण कार्यशाला का उद्देश्य युवाओं व छात्र छात्राओं को भारतीय संस्कृति की ओर आकर्षित करना भी है। राइंका माणा ¨घघराण में कार्यक्रम का समापन मुख्य शिक्षा अधिकारी चमोली ललितमोहन चमोला ने किया। पर्यावरण संरक्षण के क्षेत्र में चलाए जा रहे आंदोलन डाली लगौंण तुमारी समौंण के संयोजक धनपति शाह ने कहा कि संस्कृति व पर्यावरण दोनों का संरक्षण किया जाना चाहिए। कार्यक्रम में खंड शिक्षा अधिकारी दशोली दर्शन लाल टम्टा, प्रधानाचार्य एस मोलफा, जंगी लाल रड़वाल समेत कई लोग मौजूद थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस